ताज़ा खबर
 

नरेंद्र मोदी सरकार के खि‍लाफ फूटा बेरोजगारों का गुस्‍सा, स्‍टेशन में कैश लूटा, आग लगाई, तोड़फोड़ की

स्थानीय मीडिया के मुताबिक रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर शुक्रवार को सैकड़ों छात्र बिहारशरीफ स्टेशन पहुंच गए और हंगामा करते हुए रेलवे पटरी को जाम कर दिया। इस कारण करीब तीन घंटे से ज्यादा समय तक पटना-राजगीर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन ठप रहा।
बिहार में रेलवे की नौकरी को लेकर छात्रों का उग्र प्रदर्शन। (ANI Photo)

बिहार के नालंदा जिले में नौकरी की मांग को लेकर शुक्रवार को छात्रों ने उग्र प्रदर्शन किया। भारतीय रेलवे में नौकरी की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों ने बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन पर उत्पात मचाया और तोड़फोड़ की। प्रदर्शन कर रहे लोगों द्वारा तोड़फोड़ के साथ लूटपाट किए जाने की भी खबरें सामने आ रही है। बिहारशरीफ रेलवे स्टेशन के स्टेशन अधीक्षक श्यामू चौधरी ने बताया, “प्रदर्शनकारियों ने पूछताछ, पार्सल और बुकिंग कार्यालयों की संपत्ति को नुकसान पहुंचाया और सामान को आग लगा दिया। यही नहीं बुकिंग कैश भी लूटकर ले गए।” वहीं, इस उपद्रव के कारण मची भगदड़ में एक महिला की मौत होने की बात सामने आ रही है।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक रेलवे में नौकरी की मांग को लेकर शुक्रवार को सैकड़ों छात्र बिहारशरीफ स्टेशन पहुंच गए और हंगामा करते हुए रेलवे पटरी को जाम कर दिया। इस कारण करीब तीन घंटे से ज्यादा समय तक पटना-राजगीर रेलखंड पर ट्रेनों का परिचालन ठप रहा। प्रदर्शनकारी छात्रों ने बिहारशरीफ स्टेशन को फूंक दिया। जिसके कारण कई ट्रेनों का परिचालन रोकना पड़ा। उपद्रवी छात्रों ने पुलिस के वाहन को भी निशाना बनाया और एक पुलिस जीप को आग के हवाले कर दिया। हंगामा कर रहे स्टूडेंट्स की रेलवे कर्मचारियों, पुलिस और पत्रकारों से भी झड़प हुई।

छात्रों का आरोप है कि केंद्र सरकार ने उनके साथ धोखा किया है। छात्र केंद्र सरकार पर नौकरी नहीं देने का आरोप लगा रहे थे। हंगामा कर रहे छात्रों को शांत कराने जब पुलिस पहुंची, तब छात्रों ने पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दी। रिपोर्ट्स के मुताबिक छात्रों ने पथराव से पहले पुलिस पर गोली भी चलाई। जिसके बाद छात्रों को तितर बितर करने के लिए पुलिस को हवाई फायरिंग करनी पड़ी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, छात्र केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे। रेलवे अधिकारियों के अनुसार, लाखों रुपये की क्षति का अनुमान है। नालंदा के पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने बताया कि 17 उपद्रवियों को गिरफ्तार कर लिया गया है। वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों की गिरफ्तारी के लिए छात्रावासों और लॉजों में पुलिस छापेमारी कर रही है। उन्होंने कहा कि किसी भी उपद्रवी को बख्शा नहीं जाएगा।

 

जाट आंदोलन की वजह से 9 ट्रेनें हुई रद्द, जयपुर- भरतपुर राजमार्ग प्रभावित

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. B
    bitterhoney
    Jun 24, 2017 at 12:15 am
    मोदी जी, नौकरी देने का वादा किया तो उसको पूरा करो . दो करोड़ युवाओं को हर साल नौकरी देने का वादा मोदी जी ने चुनाव से पहले किया था तीन साल बीत गए आज तक एक लाख नौकरी भी नहीं निकल सकी. युवाओं में रोष बढ़ना स्वाभाविक है. देश में अराजकता फैलने का खतरा पैदा हो सकता है. मोदी जी को तुरंत युवाओं की समस्याओं का समाधान करना चाहिए.
    (0)(0)
    Reply
    1. R
      Rahul Jain
      Jun 23, 2017 at 10:07 pm
      News wale bhi ho chuke hai...gundagardi ko berojgaro ka gussa bata rahe hai
      (0)(0)
      Reply