ताज़ा खबर
 

1000 करोड़ के घोटाले में शामिल थे सुशील मोदी, नीतीश करें बर्खास्त: लालू यादव

लालू प्रसाद यादव ने कहा कि "2005-06 के आसपास बिहार में 1000 करोड़ रुपए का घोटाला हुआ था।"
आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (PTI Photo)

राजद प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से डिप्टी सीएम सुशील कुमार मोदी को हटाने की मांग की। लालू यादव ने आरोप लगाया कि सुशील मोदी 1000 करोड़ के घोटाले में सीधे तौर पर शामिल थे। लालू यादव ने मोदी के खिलाफ मामला दर्ज कराए जाने की भी मांग की। लालू यादव ने एक दिन पहले ही एक घोटाले के मामले में सीबीआई जांच की मांग की थी और इसमें सुशील मोदी के शामिल होने का आरोप लगाया था। शनिवार को लालू ने कहा, “नीतीश कुमार भ्रष्टाचार के सख्त खिलाफ हैं इसलिए उन्हें सुशील मोदी को तुरंत अपने मंत्रीमंडल से बर्खास्त कर देना चाहिए और FIR दर्ज कराकर गिरफ्तार करवा देना चाहिए।” लालू प्रसाद यादव ने चेतावनी दी कि अगर नीतीश कुमार ने सुशील मोदी को नहीं हटाया तो राष्ट्रीय जनता दल बिहार विधानसभा में मानसून सत्र का संचालन नहीं होने देगी। लालू प्रसाद यादव ने कहा कि “2005-06 के आसपास बिहार में 1000 करोड़ रुपए का घोटाला हुआ था। 90वें दशक में उजागर हुए चारा घोटाले से भी बड़े इस घोटाले में अकेले सुशील मोदी ही शामिल नहीं है।” उन्होंने बताया कि सुशील के अलावा भाजपा सांसद अश्विनी कुमार चौबे, मनोज तिवारी और शाहनवाज हुसैन जैसे भाजपा नेता भी शामिल रहे हैं।

इससे एक दिन पहले लालू ने नीतीश कुमार और सुशील मोदी पर 300 करोड़ रुपये का घोटाला करने का आरोप लगाया था। लालू ने दावा किया, “जब नीतीश और सुशील मोदी को अहसास हुआ कि उनका साझा घोटाला सामने आ सकता है तो उन्होंने महागठबंधन तोड़ दिया ताकि एनडीए में शामिल होकर सरकार बना लें और जांच से बच सकें।” लालू यादव ने दावा किया कि सृजन महिला विकास सहयोग समिति लिमिटेड ने गैर-कानूनी तरीके से सरकारी खजाने को चूना लगाया है और इसे संरक्षक नीतीश कुमार और सुशील मोदी हैं।

नीतीश कुमार के भ्रष्टाचार के प्रति “जीरो-टॉलरेंस” के बयान पर कटाक्ष करते हुए लालू यादव ने कहा, “नीतीश कुमनार पहले तुम अपना लालच छोड़ो फिर मुझे लालच छोड़ने की सीख देना। तुम्हारा चेहरा जनता में एक्सपोज हो चुका है।” लालू ने कहा कि भागलपुर घोटाला चारा घोटाल से बड़ा है जिसमें उन्हें फंसाया गया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग