December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

सुशील मोदी की डिप्टी CM तेजस्वी को नसीहत, “लालू-राबड़ी की राह न चलें, नहीं तो होगी बर्बादी”

उन्होंने कहा कि लालू यादव और पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने 15 साल के शासन में गाली-गलौज की भाषा बोलकर बिहार को बर्बाद कर दिया था। अब यदि तेजस्वी भी उनकी राह चले तो फिर बिहार का वही हाल होगा।

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार मोदी। (पीटीआई फाइल फोटो)

बिहार के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता सुशील मोदी ने बिहार के वर्तमान उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को अपने माता-पिता के पदचिह्नों पर न चलने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि लालू यादव और राबड़ी देवी ने 15 साल के शासन में गाली-गलौज की भाषा बोलकर बिहार को बर्बाद कर दिया था। अब यदि तेजस्वी भी उनकी राह चले तो फिर बिहार का वही हाल होगा। इसके साथ ही मोदी ने मुलायम सिंह परिवार की तरह लालू परिवार में भी भूचाल आने की भविष्यवाणी कर डाली। सुशील मोदी ने कहा है कि राष्ट्रीय जनता दल के मुखिया लालू प्रसाद यादव के परिवार का हाल भी उत्तर प्रदेश के समाजवादी परिवार जैसा ही होगा।

वीडियो में देखिए, समाजवादी पार्टी के घमासान पर बोले मुलायम; कहा- “अखिलेश मुख्यमंत्री हैं और रहेंगे”

सुशील मोदी ने दावा किया कि लालू के परिवार में फूट तभी से पड़ गई थी जब उन्होंने बेटी मीसा भारती और बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के विरोध के बावजूद छोटे बेटे तेजस्वी यादव को बिहार का डिप्टी सीएम बना दिया था। इतना ही नहीं, सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव को यूपी के सीएम अखिलेश यादव से सीख लेने तक की नसीहत दे डाली। मोदी ने कहा कि तेजस्वी को अखिलेश से सीखना चाहिए, जो अपने पिता की राह पर ना चलकर खुद के फैसले ले रहे हैं। उन्होंने कहा कि “जिस तरह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने अपने पिता मुलायम सिंह यादव के साये से बाहर निकलने की हिम्मत दिखाई है, उसी तरह स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप और उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव हिम्मत दिखाएं।” सुमो ने लालू के दोनों बेटों द्वारा उनके खिलाफ असंसदीय भाषा में जवाब देने पर यह नसीहत दी।

Read Also: यहां से अब कहां जाएगी सपा, सत्ता के संघर्ष में पिस गई मुलायम सिंह की समाजवादी पार्टी

हर सप्ताह लगने वाले जनता दरबार के बाद पत्रकारों से बातचीत में सुशील मोदी ने कहा कि लालू यादव लंबे समय से अपने परिवार की कलह को छुपाए आ रहे हैं। उन्होंने कहा, “हिंदू परिवारों में बड़े बेटे को जिम्मेदारी के मामले में प्राथमिकता दी जाती है, लेकिन लालू यादव ने बड़े बेटे की जगह छोटे बेटे को डिप्टी सीएम बनाया, जिसके बाद से ही परिवार में कलह शुरू हो गई थी। लालू के परिवार में चल रहा कोल्ड वॉर कभी ना कभी तो लोगों के सामने आ ही जाएगा।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 26, 2016 7:56 am

सबरंग