ताज़ा खबर
 

‘जय श्री राम’ बोलने पर इस्लाम से निकालने का फतवा जारी, नीतीश के मंत्री ने कहा- 100 बार बोलूंगा

इमारत-ए-शरिया ने फतवा जारी करते हुए उन्हें इस्लाम से खारिज और मुर्तद करार दिया है।
बिहार सरकार में अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री फिरोज अहमद।(फाइल फोटो)

बिहार विधानसभा में ‘जय श्रीराम’ का नारा लगाने पर नीतीश सरकार के अल्पसंख्यक मंत्री खुर्शीद उर्फ फिरोज अहमद के खिलाफ फतवा जारी किया गया है। इस्लामी संस्था इमारत-ए-शरिया ने ये फतवा जारी किया है। इमारत-ए-शरिया ने फतवा जारी करते हुए उन्हें इस्लाम से खारिज और मुर्तद करार दिया है। आपको बता दें कि नीतीश सरकार के फ्लोर टेस्ट में जीत हासिल होने के बाद बिहार विधानसभा में फिरोज अहमद ‘जय श्रीराम’ के नारे लगाये थे। साथ ही उन्होंने कहा था कि महागठबंधन टूटने के लिए मनोकामना मंदिर में पूजा की थी। खुर्शीद ने कहा था राम और रहीम एक हैं, बांटने की राजनीति अब नहीं चलेगी। आपको बता दें कि इस घटना के अगले दिन ही नीतीश कैबिनेट में उन्हें अल्पसंख्यक मंत्री बनाया गया।

इमारत-ए-शरिया ने फतवा जारी करते हुए उन्हें इस्लाम से खारिज और मुर्तद करार दिया है।

 

इमारत-ए-शरिया द्वारा इस्लाम से बर्खास्त करने के फतवे पर मंत्री फिरोज अहमद ने कहा है कि भगवान जानता है कि ‘जय श्री राम’ के नारे लगाने के पीछे मंशा क्या थी। मेरा काम बताएगा कि मैं कौन हूं। अगर मुझे बिहार के लोगों के लिए विकास और सामंजस्य के लिए ‘जय श्री राम’ कहना पड़ता है तो मैं कभी इससे पीछे नहीं हटूंगा। बिहार के लिए मैं 100 बार ‘जय श्री राम’ बोलूंगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    manoj
    Jul 30, 2017 at 1:32 pm
    इसे कहते है भाई चारा और इस्लाम धर्म की िष्णुता ? सिर्फ जय श्री राम बोलने पर धर्म से बहार ? आश्चर्य है की इन्टोलेरेंस ब्रिगेड चुप है ? कोई कैंडल मार्च नहीं इस सच्चे भारतीय के सपोर्ट में ? राहुल गाँधी से लेकर आमिर खान तक सब चुप हैं ? इसी दोगलेपन को भारत में कांग्रेस पार्टी और NDTV जैसे बाइक हुए लोग सेकुलरिज्म बताते हैं ? मुस्लिम इस्लाम के लेकर पक्का है तो सेक्युलर है और हिन्दू धर्म को लेकर पक्का है तो कम्युनल? २०१४ के बाद का भारत अब और नहीं बनेगा यह सब समझता है की भाई चारे में भाई कौन हैं और चारा किसे बनाया गया है फ़र्ज़ी सेकुलरिज्म के नाम पर
    (0)(0)
    Reply