ताज़ा खबर
 

बिहार: पिता ने पुलिस से लगाई गुहार, मुझे दिलाइए मृत बेटी का स्त्रीधन

जनवरी में सुप्रीम कोर्ट कहा था कि अगर किसी स्त्री की मौत शादी के सात सालों के भीतर रहस्यमयी परिस्थितियों में ​हो जाती है तो उसके स्त्रीधन पर उसके पति का कोई हक हीं होगा।
प्रतीकात्मक चित्र

बिहार में पहली बार  एक डॉक्टर ने अपनी मृत बेटी का स्त्रीधन वापस पाने के लिए पटना पुलिस से मदद की गुहार लगाई है। बताया जा रहा है कि 31 अक्टूबर को उसकी 26 साल की बेटी उसके ससुराल वालों ने कथित तौर पर हत्या कर दी थी। इस सबके बाद अब वह अपनी बेटी के पति से उसका स्त्रीधन वापस चाहता है। हिन्दू कानून के अनुसार स्त्रीधन वह होता है जो एक स्त्री को अपने जीवन कार्यकाल के दौरान मिलता है। इसमें स्त्री को शादी से पहले मिलने वाले उपहार, शादी के समय मिले समान से लेकर बच्चे के जन्म तक की चीजें शामिल होती हैं।

पिछले साल 21 नंवबर को न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा और पी सी प्रफुल्ल पंत की पीठ ने एक मामले की सुनवाई के दौरान कहा था कि स्त्रीधन पर एक स्त्री का पूरा अधिकार है। इस पर वह पति से अलग होने पर भी दावा कर सकती है। वहीं इसी साल जनवरी में सुप्रीम कोर्ट कहा था कि अगर किसी स्त्री की मौत शादी के सात सालों के भीतर रहस्यमयी परिस्थितियों में हो जाती है तो उसके स्त्रीधन पर उसके पति का कोई हक हीं होगा। वहीं चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर और आर भानुमति ने स्पष्ट करते हुए कहा कि अगर शादी के सात सालों के अंदर किसी महिला की रहस्यमयी मृत्यु हो जाती है तो उसका स्त्रीधन उसके बच्चों को होगा। अगर किसी दंपति के बच्चे नहीं हैं तो ऐसी परिस्थिति में महिला के माता—पिता स्त्रीधन के हकदार होंगे।

हालांकि डॉक्टर पकंज कुमार की बेटी रानी सिंह की मृत्यु एक प्राइवेट नर्सिंगहोम में हुई थी और ज्यादातर पुलिस अधिकारी सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले से अनजान है। वहीं उनका कहना है कि इस मामले में महिला भी जिंदा नहीं है तो अब वह उनकी याचिका पर कैसे निर्णय लें।
गौरतलब है कि साल 2013 में रानी सिंह और निलेश कुमार की शादी हुई थी। 31 अक्टूबर को रानी की अस्पताल में भर्ती कराया गया था जिसके बाद अस्पताल में भर्ती कराए जाने के कुछ देर बाद ही रानी की मृत्यु हो गई थी।

रानी के पिता को इस बारें में निलेश के बड़े भाई रतनेश कुमार ने सुबह चार बजे दी। रतनेश ने रानी के पिता को बताया कि वह दिल की गंभीर बिमारी का सामना कर रही थी। जबकि पुलिस की जांच में यह बात सामने निकल आई कि रानी की मौत उसके ससुराल वाले के प्रताड़ित करने की वजह से हुई थी। इस मामले में निलेश और उसके भाई और भाभी आरोपी पाए गए। निलेश को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था जबकि उसके भाई भाभी के खिलाफ पुलिस अभी तक कोई एक्शन नहीं ले पाई है।

वीडियो: बेटी की शादी में नहीं खर्च किया पैसा, बेघर लोगों को तोहफे में दिए 90 घर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Beti Rani
    Feb 1, 2017 at 11:02 am
    क्या मुझे न्याय मिलेगा ,
    (0)(0)
    Reply