ताज़ा खबर
 

बिहार: नीतीश कुमार सरकार अगले साल से कॉलेजों में देगी फ्री वाई-फाई, पोर्न साइट पर होगा बैन

नीतीश कुमार सरकार ने कहा है कि अगले साल से बिहार के 300 कॉलेजों और नौ यूनिवसिटियों में मिलेगी फ्री वाई-फाई की सुविधा।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (FILE PHOTO)

बिहार की नीतीश कुमार सरकार ने राज्य के सभी कॉलेज और विश्वविद्यालयों में अगले साल से फ्री वाई-फाई कनेक्शन सुविधा देने की घोषणा की है। लेकिन छात्र फ्री वाई-फाई इस्तेमाल करके पोर्न और ऐसी ही दूसरी साइट्स नहीं देख सकेंगे। सरकार सभी तरह की पोर्न वेबसाइट को बैन रखेगी। सरकार ने कहा कि विश्वविद्यालय यह भी सुनिश्चित करे कि विद्यार्थी इसका इस्तेमाल केवल अध्यन्न के लिए ही करें। कॉलेजों और विश्वविद्यालयों में फ्री वाई—फाई की सुविधा नीतीश कुमार के 7 सूत्रीय सुशासन नीति में शामिल है।

हाल ही में सीएम नीतीश कुमार ने बिहार के पुनरिया जिले में अपनी निश्चय यात्रा के दौरान अगले साल से सभी कॉलेजों और युनिवसिर्टी में फ्री वाई-फाई सुविधा देने की बात कही थी ताकि छात्र-छात्राएं अधिक से अधिक शिक्षण सामग्री इकठ्ठा कर सकें। सरकार की घोषणा के मुताबिक फ्री वाई—फाई की यह सुविधा अगले साल से कॉलेज और युनिवसर्टी में मिल पाएगी। इसके अलावा कैंपस में वाई—फाई के इस्तेमाल के दौरान डेटा लिमिट का भी व्यवस्था की जाएगी।

वहीं बिहार स्टेट इलेक्ट्रॉनिक डेवलपमेंट कॉरर्पोरेशन लिमिटेड (बैल्ट्रान) को राज्य के शिक्षण संस्थानों में वाई—फाई लगाने का काम सौंपा गया है। बैल्ट्रान के मुताबिक कॉलेजों इंटरनेट की स्पीड 10 एमबीपीएस जबकि आईआईटी जैसे बड़े संस्थानों में इंटरनेट की यह सुविधा 20 एमबीपीएस तक होगी। वहीं इस विभाग के अधिकारियों ने बताया कि फ्री वाई—फाई की यह सुविधा बिहार के 300 कॉलेजों और 9 यूनिवसिटियों को प्रदान की जाएगी।

नीतीश कुमार इससे पहले भी चुनाव से पहले किया गया शराबबंदी का वादा पूरा कर चुके हैं। हालांकि उनके शराबबंदी के फैसले को राज्य में काफी आलोचना भी हुई थी। नीतीश सरकार ने शराब से जुड़े मामले में सजा काफी कड़ी कर दी थी जिसे बाद में हाई कोर्ट ने भी गैर-कानूनी करार दिया। नीतीश कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नोटबंदी के फैसले का भी समर्थन किया था।

वीडियोः बेंगलुरु: RBI के वरिष्ठ अधिकारी को CBI ने किया गिरफ्तार, अवैध तरीके से पैसे बदलने का आरोप

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग