December 06, 2016

ताज़ा खबर

 

राबड़ी देवी ने कहा- पीएम कालाधन छिपाकर रखे हैं, लालूजी के पास कोई एक चवन्नी निकालकर दिखाए

बिहार की पूर्व सीएम राबड़ी देवी ने मौजूदा सीएम नीतीश कुमार पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी चाहे तो उन्हें गोद में उठाकर ले जा सकती है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी। (PTI Photo by Subhav Shukla)

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने मंगलवार (29 नवंबर) को विवादित बयान देते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी ने कालाधन छिपा रखा है। बिहार के पूर्व सीएम और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू यादव की पत्नी राबड़ी ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, “पीएम कालाधन छुपा के रखे हैं। लालूजी के पास नहीं है कालाधन, 25 साल से केस चल रहा है  कोई एक चवन्नी निकाल के दिखा दे।” राबड़ी देवी ने बिहार के सीएम नीतीश कुमार के बीजेपी के साथ गठबंधन की अटकलों पर तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी चाहे तो नीतीशजी को गोद में उठाकर ले जा सकती है। हालांकि बाद में राबडी़ देवी ने सफाई देते हुए कहा कि वो केवल मजाक कर रही थीं।

इससे पहले लालू यादव ने पीएम मोदी की तुलना ‘अंकल पोजर’ से की थी। राजद सुप्रीमो ने पिछले हफ्ते एक ट्वीट में लिखा था, “मोदी जी देश के “अंकल पोजर है। जो किसी काम को आरंभ करते है लेकिन अंत में वह काम बुरी तरह बिगड़ जाता है। फिर दोष औरों को देते है।” लालू यादव ने ट्वीट किया था, “पढ़ाई के दिनों में एक कविता पढ़ी थी जिसका नाम था, “अंकल पोजर हैंग्स द पिक्चर।” नोटबंदी के बाद फैले विवाद से मुझे इस कविता की याद आती है।” बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नोटबंदी पर पीएम नरेंद्र मोदी का समर्थन करते हुए इसे अच्छी नीयत से उठाया गया कदम बताया है। साथ ही मीडिया में ऐसी खबरें भी आई हैं कि जद(यू) राजद से गठबंधन तोड़कर बीजेपी के संग गठबंधन कर सकता है।

बिहार बीजेपी के अध्यक्ष सुशील मोदी ने मंगलवार को कहा कि नीतीश कुमार को कांग्रेस और राजद के साथ गठबंधन पर दोबार विचार करना चाहिए। उन्होंने आगे कहा कि अगर नीतीश उनके साथ काम करते रहेंगे तो उनका राजनीतिक करियर खत्म हो जाएगा। साथ ही सुशील कुमार मोदी ने यह भी कहा कि नीतीश 17 साल तक बीजेपी के साथ गठबंधन में थे और उस दौरान उनकी राजनीतिक छवि बेहतर बनी थी। जब एक पत्रकार ने राबड़ी से सुशील मोदी के बयान पर प्रतिक्रिया मांगी तो उन्होंने कहा कि मोदीजी चाहें तो नीतीशजी को गोद में उठाकर ले जा सकते हैं।

सोमवार को वित्त मंत्री ने नोटबंदी के जनता पर प्रभाव और नकद-मुक्त अर्थव्यस्था का अध्ययन करने के लिए मुख्यमंत्रियों की एक कमेटी बनाने का प्रस्ताव पेश किया। इस कमेटी में ओडिशा के सीएम नवीन पटनायक, बिहार के सीएम नीतीश कुमार, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू और मध्य प्रदेश के सीएम शिवराज सिंह चौहान शामिल होंगे। केंद्रीय वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने आंध्र प्रदेश के मुख्‍यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू से मुख्‍यमंत्रियों के पैनल की अध्‍यक्षता करने को कहा है। जेटली ने इस संबंध में बिहार सीएम नीतीश कुमार और ओडिशा सीएम नवीन पटनायक से भी फोन पर बात की है।

वीडियोः प्रधानमंत्री मोदी का निर्देश- सभी बीजेपी सांसद, विधायक अमित शाह को भेजें बैंक खातों का ब्‍योरा

वीडियोः मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने नोटबंदी को बताया ‘ऐतिहासिक’ फैसला

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 29, 2016 3:42 pm

सबरंग