ताज़ा खबर
 

नीतीश कुमार बनेंगे NDA कन्वीनर, JDU के दो नेता नरेन्द्र मोदी सरकार में बनेंगे मंत्री

पटना में 19 अगस्त को जेडीयू कार्यकारिणी की प्रस्तावित बैठक में नीतीश कुमार अपनी पार्टी जेडीयू को एनडीए का हिस्सा बनाने की घोषणा कर सकते हैं।
बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह से शुक्रवार को मुलाकात की। फोटो-पीटीआई

बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड के अध्यक्ष नीतीश कुमार देश में एक बड़े राजनीतिक बदलाव की शुरुआत कर सकते हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक पटना में 19 अगस्त को जेडीयू कार्यकारिणी की प्रस्तावित बैठक में नीतीश कुमार अपनी पार्टी जेडीयू को एनडीए का हिस्सा बनाने की घोषणा कर सकते हैं। इसके एवज में नीतीश कुमार को एनडीए में बड़ी जिम्मेदारी दी जा सकती है। रेडिफ डॉट कॉम की खबर के मुताबिक नीतीश कुमार को राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन का संयोजक बनाया जा सकता है। इसके अलावा जेडीयू के दो नेताओं को नरेन्द्र मोदी सरकार में जगह मिल सकती है। रिपोर्ट्स के मुताबिक इनमें से एक नेता को कैबिनेट रैंक का मंत्री बनाया जा सकता है, जबकि दूसरे नेता को राज्यमंत्री बनाया जा सकता है।

हालांकि जेडीयू को इस वक्त पार्टी के दो वरिष्ठ नेताओं की बगावत का सामना करना पड़ रहा है। राज्य सभा सांसद शरद यादव और अली अनवर नीतीश कुमार के फैसले के खिलाफ हैं। जेडीयू ने अली अनवर को पार्टी के संसदीय दल से सस्पेंड कर दिया है। जबकि पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव को राज्य सभा में पार्टी के संसदीय दल के नेता पद से हटा दिया है। इनके स्थान पर जदयू ने आरसीपी सिंह को राज्यसभा में पार्टी का नया नेता नियुक्त किया है। आरसीपी सिंह नीतीश कुमार के करीबी माने जाते हैं। सूत्रों के मुताबिक नीतीश खेमा अब राज्यसभा से इन दोनों नेताओं की विदाई चाहता है।

राज्यसभा में इस वक्त जदयू के 10 सदस्य हैं। नीतीश कुमार और शरद यादव के बीच मतभेद तब सामने आए थे जब पिछले महीने नीतीश ने कांग्रेस और राजद के साथ संबंध खत्म कर बिहार में नई सरकार बनाने के लिए भाजपा से हाथ मिला लिए थे। हाल ही में बिहार दौरे के दौरान शरद यादव ने कहा था कि उनका अभी भी यही मानना है कि वह राजद और कांग्रेस के साथ महागठबंधन का हिस्सा हैं। जदयू केवल नीतीश कुमार की ही पार्टी नहीं है बल्कि उनकी भी पार्टी है। इधर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने शनिवार को कहा  कि उन्होंने नीतीश कुमार को एनडीए में शामिल होने का न्यौता दिया है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.