ताज़ा खबर
 

लड़के के परिवार ने मांगा एक्‍स्‍ट्रा कैश तो लड़की ने फोन पर तोड़ी शादी, कहा- ऐसे लालची से शादी नहीं करनी

दूल्हन के पिता योगेश सिंह ने कहा कि मुझे अपनी बेटी पर गर्व है कि उसने दहेज के खिलाफ इतना बड़ा कदम उठाया।
इस तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

देश में दहेज लेना और देना दोनों ही जुर्म है लेकिन आज भी बहुत से ऐसे लोग हैं जो कि मुंह फांड़कर दहेज की मांग करते हैं। ऐसा ही एक मामला बिहार में देखने को मिला है जहां पर दूल्हे के परिवार द्वारा शादी में अतिरिक्त कैश की मांग की गई, लेकिन दूल्हन को यह पसंद नहीं आया और उसने शादी करने से इंकार कर दिया। दूल्हन ने शादी से यह कहकर इंकार कर दिया कि मैं ऐसे लालची आदमी से शादी नहीं कर सकती। यह मामला गोपालगंज के हरखोली गांव का है। प्राप्त जानकारी के अनुसार दूल्हन का पूरा परिवार शादी से पहले होने वाली तिलक रस्म के लिए दूल्हे के घर पहुंचा था।

इसके बाद दूल्हे के परिजनों ने दूल्हन के परिवार से अतिरिक्त पैसे देने की मांग की। यह सुनकर दूल्हन के घरवाले चौंक गए और वे उनसे विन्नती करने लगे कि वे ज्यादा पैसा नहीं दे पाएंगे। वहीं दूल्हे का परिवार पैसे की मांग को लेकर अपनी बात पर अड़ा रहा। इसी बीच यह बात दूल्हन को पता चल गई जो कि अपने घर पर थी। दूल्हन ने अपने पिता को फोन किया और उनसे कहा कि अब वह यह शादी नहीं करना चाहती हैं क्योंकि उसे ऐसे लालची दूल्हे में कोई दिलचस्पी नहीं है। बेटी की बात सुनकर उसके पिता ने उसका समर्थन करते हुए शादी तोड़ दी।

दूल्हन के पिता योगेश सिंह ने कहा कि मुझे अपनी बेटी पर गर्व है कि उसने दहेज के खिलाफ इतना बड़ा कदम उठाया। उन्होंने कहा कि तिलक रस्म पर दूल्हे के परिवार द्वारा पैसा मांगे जाने पर हम बहुत ही अपमानित महसूस कर रहे थे। इस मामले की शिकायत पुलिस थाने में दर्ज कराई गई। एक पुलिस अधिकारी सरीता कुमारी ने कहा कि लड़की खुद एक दहेज होती है, वह अपना घरबार छोड़कर दूसरे के घर जाती है फिर भी लोग दहेज की मांग करते है। उन्होंने कहा कि इस साहसी लड़की का यह कदम उन सभी दहेज लोभियों के मुंह पर तमाचा है जो कि दूल्हन के परिवार से दहेज की मांग करते हैं।

देखिए वीडियो - बिहार: मानसिक रूप से बीमार महिला को पति घसीटकर ले गया, अस्पताल ने मुहैया नहीं करवाया स्ट्रेचर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.