June 23, 2017

ताज़ा खबर
 

भागलपुर: नगर निगम चुनाव प्रत्‍याशी के घर पर किया बम से हमला, धारा 144 लागू

डीडीसी ने अपनी जांच रपट में इस बात का जिक्र किया है। डीडीसी की यह रपट की कापी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

जिला प्रशासन ने इलाके में धारा-144 लगा दिया है। (Image Source: Social Media)

भागलपुर नगर निगम चुनाव में बाहुबली और धनबली का खेल शुरू हो गया है। दबंग लोग उम्मीदवारों को धमकाने और उनमें दहशत फैलाने की कोशिश कर रहे हैं। इसी के तहत शुक्रवार को एक नजारा देखने को मिला, यहां देर रात वार्ड नंबर 37 की प्रत्याशी प्रियंका आनंद भगत के आवास पर दो बम विस्फोट किया गया। जिसमें एक शख्स जख्मी हो गया। घटना के तुरंत बाद प्रशासन भी हरकत में आ गई। जिला प्रशासन ने इलाके में धारा-144 लगा दिया है। साथ ही चुनाव को मद्देनजर रखते हुए सुरक्षा के लिए पुलिस बल को भी तैनात किया गया है।

शुक्रवार को हुई इस वारदात ने पुलिस की तैयारियों की पोल खोल दी है। हालांकि वारदात शुक्रवार रात सवा ग्यारह बजे की है। 37 नंबर वार्ड की उम्मीदवार प्रियंका आनंद का कहना है कि शुक्रवार को प्रचार का आखिरी दिन था। शाम को प्रचार का वक्त गुजर जाने के बाद रात 9 बजे घर लौटी। घर में खाना खा रहे थे कि अचानक दो धमाके की जोरदार आवाज आई। इसके बाद पूरे इलाके में अफरातफरी मच गई।

इसी दौरान पता चला कि छत पर किराये पर रह रहा एक स्टूडेंट अखिलेश छत पर सोया था। जब ऊपर जाकर देखा तो वह जख्मी हालत में पड़ा था। बम के टुकड़े ने उसके हाथ पांव और पीठ को जख्मी कर दिया था। दोनों ही बम छत पर ही गिरे थे। जख्मी हालत में अखिलेश को जेएनएल मेडिकल अस्पताल पहुंचाया गया। हालांकि, वो अभी खतरे से बाहर है। महिला प्रत्याशी ने बताया कि चुनाव समर से हट जाने का दो रोज धमकी भरा फोन आया था।

सूचना पाकर सिटी डीएसपी शहरवार अख्तर और तिलकामांझी और इशाकचक थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और मौके का मुआयना किया। इस सिलसिले में एक एफआईआर दर्ज की गई है। पुलिस तहकीकात जारी है। हालांकि, अभी तक किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। लेकिन इस घटना ने भागलपुर की सियासी माहौल को गरम कर दिया है। बाहुबलियों और धनबलियों का खेल चुनाव से ठीक दो रोज पहले शुरू होने की बात कही जा रही है। बता दें कि 21 मई को यहां वोट डाले जाएंगे।

हरेक दांव और जुगत अपनी जीत के लिए प्रत्यशी लगा रहे हैं। कोई तीन संतान होने की बात 21 नंबर वार्ड की उम्मीदवार के वारे में उठा शिकायत कर रहा है तो कोई वार्ड 38 के एक उम्मीदवार को तत्कालीन एसडीओ कुमार अनुज का दलाल बताने में लगा है। डीडीसी ने अपनी जांच रपट में इस बात का जिक्र किया है। डीडीसी की यह रपट की कापी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है। ऐसे कई हथकंडे एक दूसरे के खिलाफ शिकस्त देने के लिए आजमाएंगे। चाहे जो हो यह खेल मतदान के रोज तक चलेगा।

देखिए वीडियो - बिहार: मानसिक रूप से बीमार महिला को पति घसीटकर ले गया, अस्पताल ने मुहैया नहीं करवाया स्ट्रेचर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on May 20, 2017 8:57 pm

  1. No Comments.
सबरंग