June 25, 2017

ताज़ा खबर
 

एक रोल्स रॉयस, 11 मर्सिडीज, 10 BMW, 3 अॉडी और 2 जगुआर के बाद इस अरबपति नाई ने खरीदी 3.2 करोड़ की मर्सिडीज मेबैच

वह रमेश टूर एंड ट्रैवल्स के मालिक हैं और बॉरिंग इंस्टिट्यूट में अपने सैलून में 5 घंटे बिताते हैं। वह अपने रेग्युलर कस्टमर्स के बाल खुद काटते हैं

शौक बड़ी चीज है, लेकिन बेंगलुरु के इस नाई के शौक कुछ अलग ही हैं। जी हां, हम बात कर रहे हैं रमेश बाबू की, जो अरबपति होते हुए भी सिर्फ 75 रुपये में बाल काटते हैं। इतना ही नहीं उनके पास कई लग्जरी कारें भी हैं, जिन्हें वह किराए पर भी देते हैं। रमेश ने पिछले महीने मर्सिडीज की नई मेबैच खरीदी है, जिसकी 3.2 करोड़ रुपये है। बिजनेसमैन विजय माल्या और एक बिल्डर के बाद वह शहर में एेसे तीसरे शख्स हैं, जिन्होंने यह कार खरीदी है। उनके गैराज में एक रोल्स रॉयस, 11 मर्सिडीज, 10 बीएमडब्ल्यू, 3 अॉडी और दो जगुआर हैं। रमेश की कहानी बी काफी प्रेरणाभरी है। वह आज भी वही करते हैं, जो पिछले 30 वर्षों से करते आ रहे हैं। वह रमेश टूर एंड ट्रैवल्स के मालिक हैं और बॉरिंग इंस्टिट्यूट में अपने सैलून में 5 घंटे बिताते हैं। वह अपने रेग्युलर कस्टमर्स के बाल खुद काटते हैं। प्रोफेशनल नाई होने के कारण वह अपनी जड़ों से जुड़े रहना चाहते हैं। लेकिन दूसरों से उलट वह काम पर अपनी सफेद रंग की रोल्स रॉयस में जाते हैं।

बैंक से लिया लोन: 45 साल के रमेश ने पिछले साल खुद के पैसों से मर्सिडीज मेबैच खरीदी थी। इसके लिए उन्होंने बैंक से लोन भी लिया था। सैलून से उनकी आय बहुत ज्यादा नहीं है। लेकिन रमेश के बहुत सारे अमीर क्लाइंट हैं और वह लग्जरी कारों को किराए पर भी देते हैं। बता दें कि बिजनेसमैन विजय माल्या के पास भी गोल्डन कलर में यही कार है, लेकिन उसे कभी बेंगलुरु में देखा नहीं गया। कुछ लोगों का कहना है कि उसे बेच दिया गया है, जबकि और लोग कहते हैं कि वह यूबी सिटी में खड़ी है। रमेश कहते हैं कि यह मेरे लिए गर्व की बात है कि मैं शहर में विजय माल्या और एक बिल्डर के बाद एेसा शख्स हूं, जिसके पास यह कार है। वह कहते हैं कि भगवान मेरे साथ है और यहां तक पहुंचने के लिए मैंने बहुत मेहनत की है। मेरा सपना है कि मैं सारी लग्जरी कार खरीदूं।

जड़ों को नहीं भूले: रमेश कहते हैं कि उन्हें पता कि यहां तक पहुंचने के लिए उन्होंने कितना दर्द झेला है। उन्हें याद है कि किस तरह पिता की मौत के बाद उनकी मां ने उन्हें पाला, इसलिए मैं सैलून में काम करता रहूंगा। इसी पेशे के कारण ही मुझे यह सब मिला है। मैं जल्द ही कुछ और कार खरीदूंगा।

तेलंगाना सरकार का फैसला- शादीशुदा महिलायें पढाई से ध्यान भटकाती हैं, इसलिए आवासीय कॉलेजों में नहीं देंगे प्रवेश, देखें वीडियो ः

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on March 2, 2017 3:59 pm

  1. B
    bitterhoney
    Mar 2, 2017 at 12:22 pm
    क्या यह सब सफ़ेद धन से खरीदी हुई कारें हैं? मोदीजी इसकी पड़ताल कब करवाएंगे. सुना है कि जेटली जी के पास भी सफ़ेद धन से खरीदी हुई महंगी कारों की टोली है
    Reply
    सबरंग