ताज़ा खबर
 

PM मोदी को ‘कायर’ कहने पर अरविंद केजरीवाल के खिलाफ राजद्रोह का केस चलाने पर होगी सुनवाई

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मानहानि और राजद्रोह वाले शब्दों का इस्तेमाल करने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज कराई गई है।
Author नई दिल्ली | January 18, 2016 14:26 pm
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ मानहानि और राजद्रोह वाले शब्दों का इस्तेमाल करने पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ आपराधिक शिकायत दर्ज कराई गई है। शिकायत दर्ज कराने वाले वकील ने शुक्रवार को अदालत में कहा कि आप प्रमुख के बयानों से सद्भाव बिगड़ सकता है। केजरीवाल पर भारतीय दंड संहिता की धारा 124 (विद्रोह) और 500 (मानहानि) के तहत मुकदमा चलाने की मांग करते हुए वकील ने आरोप लगाया कि इन बयानों में बगावत की मंशा है जो प्रधानमंत्री के प्रति घृणा और तिरस्कार फैलाते हैं।

Read Also: Video: ‘ऑड-ईवन’ के जश्‍न के दौरान महिला ने अरविंद केजरीवाल पर फेंकी स्‍याही

शिकायतकर्ता प्रदीप द्विवेदी के वकील अनुपम द्विवेदी ने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि एक व्यक्ति के निजी हित राष्ट्रहित पर हावी हैं। केजरीवाल के बयान से देश में बैर और असंतोष फैल सकता है। केजरीवाल और मोदी के बीच राजनीतिक प्रतिद्वंद्विता थी जो चुनावों के समय से ही है। मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट जगमिंदर सिंह ने दलीलें सुनने के बाद मामले की अगली सुनवाई 26 फरवरी तय की।

शिकायत दायर करने के अपने औचित्य को सही ठहराने की कोशिश करते हुए वकील ने कहा कि भारत का नागरिक होने के नाते मैं केजरीवाल के बयानों से आहत हूं और उस मामले में शिकायत दर्ज करने के लिए सक्षम हूं जहां देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ बयान दिए गए हैं। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि जब सीबीआइ ने पिछले साल 15 दिसंबर को मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव राजेंद्र कुमार के दिल्ली सचिवालय कार्यालय पर छापा मारा तो केजरीवाल ने मोदी के खिलाफ ट्विटर पर अपमानजनक टिप्पणियां की।

शिकायत में कहा गया है कि सीबीआइ की स्वायत्ता और स्वतंत्रता से पूरी तरह अवगत होने के बाद भी आरोपी (केजरीवाल) ने अपने राजनीतिक हित और राजनीतिक बैर के चलते इस देश के प्रधानमंत्री के खिलाफ ट्विटर पर अपमानजनक टिप्पणी की और वह भी बस सीबीआइ छापे की वजह से।

शिकायत में कहा गया है कि 15 दिसंबर, 2015 को आरोपी ने अपने ट्विटर एकाउंट पर जो टिप्पणी की उसमें कहा गया है कि मोदी कायर और मनोरोगी हैं। ये टिप्पणियां दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र के प्रधानमंत्री के खिलाफ की गई हैं। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि केजरीवाल ने प्रधानमंत्री के खिलाफ घृणा और तिरस्कार का भाव फैलाने के लिए जान-बूझकर अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. V
    VIJAY
    Jan 18, 2016 at 1:16 pm
    वकील साहिब को पता नहीं की सुप्रीम कोर्ट ne बी सीबीआई को सरकारी तोता बोला ह.
    Reply
    1. T
      Tej Rathore
      Jan 27, 2016 at 6:39 pm
      ये ir .
      Reply
      1. K
        karan
        Jan 20, 2016 at 7:15 am
        यह गैरजिम्मेदारना व अपमानजनक टिप्पणी देश के शि्रस्थ नेता P.M. के खिलाफ करने वाला शख्श सवैधानिक पद पर विराजमान था,अतः इसका जुर्म दोगुणा हो जाता है | कानुन को इस मुहफट घटीया राजनैतिज्ञ को पुनः कुछ समय जेल में डाल देना चाहिए |
        Reply
        1. M
          Mukul Saxena
          Jan 17, 2016 at 3:22 pm
          यह कांग्रेस का दलाल है , इसको कांग्रेस ने पैदा किया है, अब कहा है शीला दिक्सित के खिलाफ कागज़ , अब कहा है सलमान खुर्शीद के खिलाफ कागज़, इसको सारी खराबी बीजेपी में ही दिख रही है, खुद भारी गोलमाल कर के जनता को बेवक़ूफ़ बना रहा है और रिश्वतें खा रहा है....
          Reply
          1. R
            Ramawatar gupta
            Jan 19, 2016 at 7:16 am
            जरुरी है मुझे भी बहुत ा लगा था पर कानून की जानकारी के अभाव मे ऐसा नही करा सका
            Reply
            1. R
              Ramesh Maharshi
              Jan 28, 2016 at 5:13 am
              देश के प्रधानमंत्री को एक संवैधानिक पद पर बैठे हुए तथा एक राज्य के मुख्यमंत्री के द्वारा गालियाँ निकालना ना सिर्फ भारतीय लोकतंत्र के प्रधानमंत्री पद की गरिमा पर आघात है बल्कि भविष्य के लिए एक गलत परम्परा की शुरुआत है जो केंद्र व राज्यों के आपसी संबंधों को बाधित करेंगे।केंद्र का राज्यों पर नियंत्रण को भी प्रभावित करने की शुरुआत होगी।
              Reply
              1. A
                android
                Jan 17, 2016 at 10:06 am
                यह तो बहुत पहले हो jana चाहिए था| चलो kya hai अब ही ी
                Reply
                1. R
                  RK
                  Jan 17, 2016 at 2:57 am
                  aaj koe bhi kissi ke khilaaf mukadma darj krva skta he. modi jis ke khilaaf shabd bole e, wo chup chap baithe he or jinka es se lena dena nhi he wo mukdame kr rhe he. ajeeb baat he.
                  Reply
                  1. R
                    Ramawatar gupta
                    Jan 19, 2016 at 7:21 am
                    मोदी जी विशाल दिल रखते है भावना जिसकी भी आहत हुई वह भी जा सकता है कोर्ट पहले काँग्रेस पर किचड़ अब bjp पर और मोदीजी जैसे देशभक्त पर अनीय
                    Reply
                  2. Load More Comments
                  सबरंग