ताज़ा खबर
 

आंध्र प्रदेश: रिश्‍वत नहीं दी तो नर्स ने सी-सेक्‍शन के बाद एनीमा के दौरान डाल दिया तेजाब

नर्स ने प्रियंका के परिजन से रिश्वत के तौर पर और पैसे की मांग की तो उन्होंने शुरु में इनकार कर दिया। लेकिन बाद में उन्होंने अपनी सहमति से उसे 50 रुपये दे दिया।
तस्वीर का इस्तेमाल प्रतीक के तौर पर किया गया है।

विजयवाड़ा के सरकारी अस्पताल में मंगलवार को महिलाओं ने अस्पताल प्रशासन के खिलाफ जमकर विरोध प्रदर्शन किया। महिलाओं की मांग थी कि आरोपी नर्स के खिलाफ कार्रवाई की जाए। जिसने प्रसव के बाद एनीमा डालने के बहाने रिश्वत ना देने के कारण तेजाब डाल दिया था। इस मामले में पीड़ित महिला के परिजनों ने अस्पताल के अधीक्षक से शिकायत की है और उनसे आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

पीड़ित महिला के रिश्तेदारों ने बताया कि तदिगदापा निवासी जी. प्रियंका 15 जुलाई को अस्पताल में प्रसव कराने के लिए गई थी। उसने एक बच्चे को जन्म दिया। डॉक्टरों की टीम ने डिलीवरी के बाद सी सेक्शन करके प्रियंका को डिस्चार्ज कर दिया। लेकिन कुछ दिन बाद ही प्रियंका के शरीर में टांके वाली जगह पर इंफेक्शन दिखने लगा। प्रियंका के परिजनों ने डॉक्टरों की सलाह पर उसे फिर से अस्पताल में भर्ती करा दिया। 28 जुलाई को डॉक्टरों ने उसे एनीमा लेने की सलाह दी और उसकी फीस जमा कराने को कहा। जिसपर प्रियंका के परिजन तैयार हो गए।

नर्स ने प्रियंका के परिजन से रिश्वत के तौर पर और पैसे की मांग की तो उन्होंने शुरु में इनकार कर दिया। लेकिन बाद में उन्होंने अपनी सहमति से उसे 50 रुपये दे दिया। डॉक्टर ने कहा कि ये रकम बहुत कम है। लेकिन प्रियंका के परिजनों ने उसे मना लिया। लेकिन उसके मन में रिश्वत ने देने को लेकर रोष था। उसने पीड़ित महिला के शरीर में एनीमा की प्रक्रिया में तेजाब डाल दिया। हालांकि, उस समय तो किसी को कुछ पता नहीं चला लेकिन बाद प्रियंका के जांघों और पैरों पर काले चकत्ते दिखाई देने लगे। जिसके बाद महिला के परिजनों ने अस्पताल के बाहर मंगलवार को विरोध प्रदर्शन किया।

वहीं अस्पताल के उप अधीक्षक डॉ एन श्रीनिवास विट्ठल राव ने कहा कि पीड़ित महिला के शरीर पर दाने संभवत: बेडसाइड टेबल को साफ करने के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले निसंक्रामक क्लीनर की वजह से हुआ था। उन्होंने भरोसा दिलाया है कि इस मामले में जांच शुरु कर दी गई है।

देखिए वीडियो - बुलंदशहर: मरीज की मौत से गुस्साए परिजनों ने डॉक्टर को बुरी तरह पीटा, लगाया लापरवाही का आरोप

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग