December 08, 2016

ताज़ा खबर

 

‘गांधी परिवार की सरकार में देश की सीमाओं का कोई भी अपमान कर सकता था, मोदी सरकार ने सीमाओं को सुरक्षित बनाया’

अमित शाह ने कहा, ‘आज पूरी दुनिया को समझ आ गया है कि कोई भी भारत के सीमाई क्षेत्रों की ओर देखने की हिम्मत नहीं कर सकता।'

Author अमृतसर | November 1, 2016 20:13 pm
अमृतसर के स्वर्णमंदिर में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह। (PTI Photo/1 Nov, 2016)

सीमाओं की सुरक्षा के मुद्दे पर पूर्ववर्ती संप्रग सरकार पर निशाना साधते हुए भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मंगलवार (1 नवंबर) को कहा कि ‘गांधी परिवार’ की सरकार के दौरान देश की सीमाओं का कोई भी अपमान कर सकता था लेकिन मोदी सरकार ने सीमाओं को सुरक्षित बनाया है। शाह ने कहा, ‘इस सरकार ने देश की सीमाओं की सुरक्षा की है। एक समय था जब संप्रग सरकार 10 वर्षो तक रही। एक सरकार थी सोनिया (गांधी) और मनमोहन सिंह की। एक सरकार गांधी परिवार की थी। तब कोई भी देश की सीमाओं को अपमानित कर सकता था।’ पंजाब के स्वर्ण जयंती समारोह को संबोधित करते हुए शाह ने इस बात पर जोर दिया कि पिछले ढाई वर्षो में मोदी सरकार के दौरान चीजें बदल गई हैं। उन्होंने कहा, ‘आज पूरी दुनिया को समझ आ गया है कि कोई भी भारत के सीमाई क्षेत्रों की ओर देखने की हिम्मत नहीं कर सकता। अगर कोई सीमा पर शत्रुता प्रदर्शित करने का प्रयास करता है, तो देश की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए मुंहतोड़ जवाब दिया जाता है।’ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने केंद्र में साल 2014 में सत्ता संभालने के बाद भाजपा नीत सरकार की उपलब्धियों को भी रेखांकित किया।

उन्होंने कहा, ‘आजादी के बाद इस सरकार ने किसानों के कल्याण के लिए सबसे अधिक काम किया। गरीबों, दलितों और आर्थिक रूप से पिछड़े लोगों के कल्याण के लिए नई योजनाएं लाई। इस सरकार ने ऐसी परंपरा निर्धारित की जिससे योजनाओं का लाभ उसके लाभार्थियों तक पहुंचना सुनिश्चित किया जा सके और इस सब के परिणामस्वरूप देश में बदलाव की लहर चल पड़ी है।’ भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने राज्य के और विकास के लिए अकाली दल-भाजपा गठबंधन के पक्ष में लोगों से वोट देने की अपील की और मतदाताओं को कांग्रेस समेत विपक्षी दलों के झांसे में नहीं आने को कहा। शाह ने कहा, ‘पंजाब के लोगों को अब निर्णय करना है कि वे अगले पांच वर्षो के लिए सत्ता में किसे लाना चाहते हैं। एक तरफ अकाली-भाजपा गठबंधन है जो तीन दशकों से काम कर रहा है तो दूसरी तरफ कांग्रेस और कुछ नए दल हैं।’ उन्होंने कहा, ‘एक तरफ हम पंजाब के युवाओं के बलिदान और देश के स्वतंत्रता संघर्ष में हिस्सा लेने वालों पर गर्व महसूस करते हैं। और दूसरी ओर ऐसे लोग हैं जो पंजाबी युवाओं को बदनाम कर रहे हैं और उन्हें नशेड़ी बता रहे हैं और उसके बाद पंजाब के लिए जनादेश मांग रहे हैं।’ उन्होंने कहा, ‘जो लोग पंजाब के युवाओं और उनकी वीरता पर गर्व नहीं महसूस करते, उन्हें वोट मांगने का कोई अधिकार नहीं है।’

पंजाब में प्रकाश सिंह बादल सरकार की सराहना करते हुए भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि पिछले 10 वर्षो में अकाली-भाजपा सरकार के दौरान राज्य में व्यापक विकास कार्य हुए हैं। उन्होंने कहा, ‘अकाली-भाजपा सरकार के दौरान पिछले 10 वर्षो में हर तरह से चाहे कृषि हो, उद्योग, ग्रामीण विकास, शहरी विकास, स्वास्थ्य और रोजगार हो, प्रदेश को देश का आदर्श राज्य बनाया है।’ शाह ने कहा, ‘आने वााले समय में चुनाव होने वाले हैं और पंजाब के लोगों को यह तय करना है कि वे किस पार्टी या गठबंधन को सत्ता की बागडोर देना चाहते हैं।’  उन्होंने कहा कि पिछले ढाई वर्षो के दौरान पंजाब के विकास के मार्ग की सभी बाधाओं को दूर किया गया है। उन्होंने कहा, ‘केंद्र में भाजपा और अकाली दल की सरकार है। पिछले ढाई वर्षो के दौरान नरेन्द्र मोदी और अरुण जेटली के प्रयासों से राज्य के विकास के मार्ग में आने वाली सभी बाधाओं को दूर करने का काम किया गया है। अगर लोग अकाली दल-भाजपा गठबंधन को पांच वर्षो के लिए और जनादेश देते हैं तो पंजाब को विकास के लिए दुनिया में जाना जाएगा।’ अकाली दल और भाजपा गठबंधन को कौमी एकता करार देते हुए शाह ने कहा कि यह गठबंधन मोदी और बादल के आपसी सम्मान का परिणाम है। उन्होंने कहा कि दोनों दलों के नेता इस गठबंधन को आगे बढाने के लिए काम कर रहे हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 1, 2016 8:13 pm

सबरंग