December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

अखिलेश यादव ने चाचा शिवपाल को मंच से दी खुली चुनौती, कहा- टिकट तो मैं ही बाटूंगा…

अखिलेश यादव के बयान के बाद शिवपाल ये कहते हुए पीछे हट गए कि "अब मैं कुछ नहीं कहूंगा।"

(बाएं से दाएं) शिवपाल सिंह यादव, सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव और यूपी के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव।

उत्तर प्रदेश के राजनीतिक इतिहास में सोमवार (24 अक्टूबर) का दिन समाजवादी पार्टी के पारिवारिक घमासान के नाम दर्ज हो गया। सूबे के सीएम अखिलश यादव, सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव और पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष शिवपाल यादव सार्वजनिक मंच पर एक-दूसरे से तू-तू मैं-मैं करते नजर आए। समाजवादी पार्टी के लखनऊ मुख्यालय पर हुई इस संयुक्त बैठक में पार्टी के एलएलए, एमएलसी, कार्यकारिणी समिति के सदस्य एवं अन्य पार्टी पदाधिकारी मौजूद थे। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार कुछ पत्रकार भी अंदर घुसने में कामयाब रहे थे। करीब 300 लोगों की मौजूदगी में सपा के लिए सबसे ज्यादा असहज करने वाली स्थिति तब पैदा हुई जब सीएम अखिलेश और शिवपाल के बीच धक्कामुक्की हो गई।

सोमवार को मुलायम सिंह यादव जब अपना भाषण समाप्त करके मंच से हट रहे थे तभी अखिलेश कुछ कहने के लिए मंच की तरफ बढ़े। सीएम को आते देखकर शिवपाल यादव के समर्थक माने जाने वाले विधायक आशु मलिक ने लपककर अखिलेश की तरफ माइक बढ़ाया। अखिलेश मलिक को देखकर भड़क गए। उन्होंने चिल्लाते हुए कहा, “आशु मलिक, मैं जानता हूं कि तुम और अमर सिंह मेरे पिता और मेरी तुलना शाहजहां और औरंगजेब से कर रहे हो। तुम लोगों ने मेरे खिलाफ टाइम्स ऑफ इंडिया में खबर छपवाई।”

वीडियो: देखें किस तरह मंच पर सीएम अखिलेश और शिवपाल यादव के बीचु हई धक्कामुक्की- 

सीएम अखिलेश अभी अपनी पूरी ही कर रहे थे कि शिवपाल यादव उठकर मंच पर आ गए और उनके सामने से माइक लेकर कहा, “मुख्यमंत्रीजी झूठ बोल रहे हैं। हमने किसी को आप के खिलाफ खबर लिखने के लिए नहीं कहा।” इसके बाद अखिलेश और शिवपाल में धक्कामुक्की जैसी स्थिति हो गई। अखिलेश ने नाम लिए बिना शिवपाल से कहा, “चिंता मत करिए, मैं आपको पार्टी टिकट नहीं बांटने दूंगा। कैंडिटेट केवल मैं चुनूंगा।” अखिलेश के इस बयान के बाद शिवपाल ये कहते हुए पीछे हट गए कि “अब मैं कुछ नहीं कहूंगा।” इसके बाद अखिलेश तुरंत सभा स्थल से बाहर निकल गए।

सोमवार शाम अखिलेश और शिवपाल मुलायम सिंह के आवास पर पहुंचे लेकिन उनके बीच क्या बात हुई इसकी जानकारी मीडिया में नहीं आई। मंगलवार (25 अक्टूबर) की सुबह मीडिया में खबरें आने लगीं कि अखिलेश  शिवपाल यादव, नारद राय, ओम प्रकाश सिंह और शादाब फातिमा को मंत्रिमंडल में वापस ले सकते हैं। शिवपाल समेत सभी चार मंत्रियों को अखिलेश ने रविवार को कैबिनेट से बर्खास्त कर दिया था। मंगलवार सुबह भी अखिलेश और शिवपाल की मुलायम के घर पर बैठक हुई है लेकिन सपा परिवार के अंदर चल रहे घमासान का क्या कोई शांतिपूर्ण समाधान निकला है? इसके बारे में अटकलों का बाजार गर्म है।

Read Also: सचिवालय में क्‍लर्क थीं मुलायम सिंह की दूसरी पत्‍नी साधना, 2012 में पति से लिया था अपने बेटे को अखिलेश के बराबर दर्जा देने का वादा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 25, 2016 1:28 pm

सबरंग