ताज़ा खबर
 

आप सरकार ने ‘सफाई की कमी’ पर नगर निकायों के खिलाफ जारी किए 178 सशर्त आदेश

दिल्ली सरकार के अनुसार, तीनों नगर निगमों के अधिकारियों को आपराधिक दंड संहिता की धारा 133 के तहत सशर्त आदेश जारी किए गए हैं।
Author नई दिल्ली | June 6, 2016 01:01 am
आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल।

भाजपा शासित तीनों नगर निगमों पर एक बार फिर निशाना साधते हुए आप सरकार ने ‘सफाई की कमी’ के चलते नगर निकायों के खिलाफ कार्रवाई के आदेश जारी किए हैं, जिसके बाद जिला मजिस्ट्रेटों ने निकाय अधिकारियों से जवाब मांगते हुए 178 सशर्त आदेश जारी किए हैं और उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की चेतावनी दी है। यह कदम नौ जून से शुरू होने वाले दिल्ली सरकार के दो दिवसीय विशेष विधानसभा सत्र से कुछ ही दिन पहले ही उठाया गया है। इस विशेष सत्र में साफ-सफाई को लेकर तीनों नगर निगमों के कामकाज पर चर्चा की जानी है।

दिल्ली सरकार के अनुसार, तीनों नगर निगमों के अधिकारियों को आपराधिक दंड संहिता की धारा 133 के तहत सशर्त आदेश जारी किए गए हैं। यह धारा डीएम, एसडीएम और कार्यकारी मजिस्ट्रेट को शिकायतों के आधार पर या किसी सार्वजनिक स्थान से ऐसी वस्तुआें को हटाने के लिए आदेश जारी करने का अधिकार देती है, जो जनता की सेहत के लिए हानिकारक हो सकती है। एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने दावा किया है आपराधिक कानून यह भी स्पष्ट करता है कि अगर डीएम आम जनता के स्वास्थ्य की रक्षा के लिए इस धारा को लागू करने के लिए संतुष्ट होते हैं तो इसे अदालतों में भी चुनौती नहीं दी जा सकती।

एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि गृह व लोक निर्माण विभाग मंत्री सत्येंद्र जैन के निर्देशों के बाद संबंधित जिलों के जिला मजिस्ट्रेटों ने तीनों नगर निगमों के संबंधित अधिकारियों को उनके अधिकार क्षेत्रों वाले इलाकों में असंतोषजनक स्वच्छता व साफ-सफाई की स्थितियों के चलते आपराधिक दंड संहिता की धारा 133 के तहत अब तक 178 सशर्त आदेश जारी किए हैं। उत्तर-पश्चिम जिले ने इनमें से 32 और उत्तरी जिले ने 26 सशर्त आदेश जारी किए हैं। इसके अलावा पूर्वी जिले ने 32 और उत्तर-पूर्वी जिले ने 15 आदेश जारी किए हैं।

वहीं दक्षिण जिले ने 15 और दक्षिण पश्चिमी जिले ने 14 सशर्त आदेश जारी किए हैं। अधिकारी ने कहा कि इन आदेशों से यह स्पष्ट हो गया है कि तीनों नगर निगमों के संबंधित अधिकारियों को उनके अधिकार क्षेत्र में आने वाले क्षेत्रों में साफ-सफाई और स्वच्छता की असंतोषजनक स्थितियों के लिए तर्कसंगत कारण पेश करना होगा। ऐसा करने में विफल रहने पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। अधिकारी ने यह भी कहा कि ढलावों के आसपास साफ-सफाई और स्वच्छता में कमी के मुद्दों को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

तीन दिन पहले मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भाजपा नियंत्रित नगर निकायों पर आरोप लगाया था कि उन्होंने शहर को ‘कूड़ेदान’ बना दिया है। आम आदमी पार्टी अगले साल होने वाले तीन नगर निकायों- पूर्वी दिल्ली नगर निगम, उत्तरी दिल्ली नगर निगम और दक्षिणी दिल्ली नगर निगम के चुनाव की तैयारी कर रही है। हाल ही में 13 वार्डों में हुए चुनावों में आम आदमी पार्टी ने पांच सीटें जीतकर अपनी शुरुआत कर दी थी। कांग्रेस के हिस्से में पांच और भाजपा के हिस्से में तीन सीटें आई थीं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग