ताज़ा खबर
 

पेट के कीड़े मारने की दवा खाते ही 50 बच्चे पड़े बीमार

सेक्टर-53 स्थित मदन मोहन मालवीय स्कूल में गुरुवार को पेट में कीड़े मारने की दवा खाने से 4 दर्जन से ज्यादा बच्चों की तबीयत खराब हो गई।
Author नोएडा | August 11, 2017 01:07 am
सांकेतिक फोटो

सेक्टर-53 स्थित मदन मोहन मालवीय स्कूल में गुरुवार को पेट में कीड़े मारने की दवा खाने से 4 दर्जन से ज्यादा बच्चों की तबीयत खराब हो गई। दवा खाने के बाद पेट व सिर दर्द और उल्टी की शिकायत होने पर तुरंत सेक्टर-30 के चाइल्ड पीजीआइ में भर्ती कराया गया।
बच्चों के बीमार होने की सूचना मिलने पर मुख्य चिकित्साधिकारी ने दवा की फोरेंसिक जांच कराने की बात कही है। साथ ही दवा के को रोक दिया गया है।
राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस (नेशनल डिवार्मिंग डे) के तहत गुरुवार को बच्चों को एल्बेंडाजोल 400 एमजी की दवा दी गई थी। स्कूली बच्चों के पेट में कीड़े मारने के लिए यह दवा सभी स्कूलों में दी जा रही है। जिले में 7 लाख बच्चों को यह दवा देने का लक्ष्य रखा गया था। जिसे 1 से 19 साल तक के बच्चों को दिया जाना है। मदन मोहन मालवीय स्कूल के करीब 50 बच्चों की दवा खाने के बाद अचानक तबीयत बिगड़ गई। पेट और सिर दर्द के अलावा बच्चों को उल्टी आने की शिकायत होने पर तुरंत पीजीआइ में भर्ती कराया गया। अधिकांश बच्चों ने पेट दर्द होने की शिकायत की। सीएमओ अनुराग भार्गव ने बताया कि दवा के भंडार पर रोक लगा दी गई है। जहां भी दवा दी जा रही है, उस पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दिया गया है।
मामले की जांच कराई जाएगी। उन्होंने बताया कि इलाज के बाद अधिकांश बच्चों को आराम है। साथ ही परिजनों को बेहतरीन इलाज कराने का आश्वासन दिया है। हालांकि एकाएक 50 बच्चों के बीमार होने पर पीजीआई में बिस्तरों की संख्या कम पड़ गई। जिसके चलते एक बैड पर दो से तीन बच्चों को लिटाकर इलाज किया गया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग