February 22, 2017

ताज़ा खबर

 

राजनीति

मातृभाषाओं का विस्थापन

भारत बहुभाषा-भाषी राष्ट्र है, पर इसका अर्थ यह नहीं लगाना चाहिए कि यहां के सभी निवासी अपनी मातृभाषा के अतिरिक्त अन्य भाषा भी जानते...

मानसिक रुग्णता, समाज और सरकार

मानसिक रोगियों को लेकर सर्वोच्च न्यायालय की चिंता नई नहीं है। इसके पहले भी न्यायालय देश में बढ़ रहे मानसिक रोगियों को लेकर अपनी...

राजनीतिः कब होगा भिखारियों का पुर्नवास

भिखारी किसी भी देश व उसके नागरिकों के माथे पर कलंक की तरह होते हैं। आज इक्कीसवीं सदी में जी रहा हमारा देश एक...

बेबाक बोलः बरसाती- संघम् शरणम्

पहचान की राजनीति के दौर में आलोचनाओं की बारिश की आशंका हो तो ‘रेनकोट’ यानी बरसाती एक बुनियादी जरूरत है।

सोशल मीडिया: राष्ट्रवादी बसंत का पतझड़ काल

पिछला बसंत ‘द्रोहकाल’ के नाम कर दिया गया था। जो जेएनयू आजादी, प्रगतिशीलता और उदारता की जमीन का एक पर्याय बन गया था, उसी...

राजनीतिः पलायन का उर्वर प्रदेश

रोजगार के लिए गांवों से शहरों की तरफ पलायन का सिलसिला यह दर्शाता है कि कृषि लगातार गहरे संकट में है। दूसरी तरफ, इस...

स्कूलों में असुरक्षित बच्चे

जयपुर में एक शिक्षक ने दस साल में तकरीबन दो सौ से अधिक बच्चों को अपनी हवस का शिकार बनाया। शिक्षक पर यह...

प्रदूषण की भेंट चढ़ता जीवन

बीते वर्ष केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा देश के इक्कीस चुनिंदा शहरों की वायु गुणवत्ता पर एक रिपोर्ट जारी की गई थी।

चुनाव सुधार की कठिन डगर

जब भी चुनाव होता है तो चुनाव सुधार पर भी बहस होती है। एक बार फिर चुनाव सुधार को लेकर बातचीत हो रही है।...

विचारधारा, पार्टियां और संविधान

संविधान के अनुसार पार्टियां उसके सदस्यों की ऐसी वैचारिक अभिव्यक्तियां मात्र हैं जो संविधान के दायरे के भीतर हैं। इतनी ही स्वतंत्रता इन वैचारिक...

राजनीतिः पुलिस सुधार का बंद रास्ता

सोचना होगा कि सर्वोच्च न्यायालय समर्थित पुलिस सुधार की गाड़ी पटरी से कैसे उतरती चली गई? दरअसल, सर्वोच्च न्यायालय में चली लंबी सुनवाई से...

गैरसैण: सोलह साल से भ्रमजाल

उत्तराखंड को वजूद में आए सोलह साल हो चुके हैं। इन सोलह सालों में सूबे की जनता तीन लोकसभा और तीन विधानसभा चुनाव देख...

बेबाक बोलः पंच परमेश्वर- आस्था और असलियत

हर की पैड़ी पर अगरबत्ती, कपूर की खुशबू और मंदिरों की घंटियों की गूंज बरबस आपको आध्यात्मिक माहौल में खींचती है। पर वहां से...

राजनीतिः नगालैंड में महिला आरक्षण की गुत्थी

नगालैंड की महिलाएं देश के दूसरे हिस्सों की तरह अपने राज्य में भी स्थानीय निकायों में तैंतीस प्रतिशत आरक्षण चाहती हैं। लेकिन विरोध में...

खेलों से दूर होते बच्चे

बच्चों के लिए पढ़ाई के साथ-साथ खेल भी महत्त्वपूर्ण है। पढ़ाई से जहां वे बौद्धिक रूप से विकसित होते हैं, वहीं खेल से बौद्धिक...

हाशिए पर महिला नेतृत्व

राजनीति में महिलाओं को उचित प्रतिनिधित्व देने के राजनीतिक दलों के दावे निर्मूल साबित हो रहे हैं।

भगवंत मान ने मिमिक्री कर नरेंद्र मोदी को किया था ट्रोल, जवाब में पीएम ने श्‍लोक के बहाने उड़ाया मखौल

लोकसभा में बुधवार को नजारा देखने वाला रहा। आम आदमी पार्टी के सांसद भगवंत मान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की मिमिक्री करते हुए उन...

…जब योगी आदित्‍यनाथ को मुस्लिम महिला ने दी सांप्रदायिक सौहार्द की सीख, कहा- दिल से हिंदुस्‍तानी कहते हैं, आपके कहने से नहीं बोलेंगे

हिन्दुस्तान पूरी दुनिया में साधु संतों, सूफियों, औलिया, अल्लाह और स्वामी विवेकानंन्द जी की सांझी संस्कृति से पहचाना जाता है।

सबरंग