ताज़ा खबर
 

गोपीचंद जब स्टार खिलाड़ी थे तो ठुकरा दिया था कोल्ड ड्रिंक का विज्ञापन, कहा- खुद नहीं पीता तो दूसरों को कैसे कहूं…

Sat August 20 2016, 2:08 pm
  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    पीवी सिंधू के रियो ओलंपिक में सिल्‍वर मैडल जीतने के बाद पुलेला गोपीचंद का नाम भी सबकी जुबान पर हैं। गोपीचंद बैडमिंटन के खेल में भारत को दो ओलंपिक पदक दिला चुके हैं। पहले लंदन ओलंपिक में कांस्‍य और अब रियो में सिल्‍वर। कहा जा रहा है कि टोक्‍यो ओलंपिक में वे भारत को गोल्‍ड दिला सकते हैं। गोपी कड़े परिश्रम, अनुशासन और आदर्शों के लिए जाने जाते हैं। गोपीचंद खुद साल 2000 में ओलंपिक के क्‍वार्टर फाइनल से बाहर हो गए थे। गोपी के करीबियों का कहना है कि इसके बाद से उन्‍होंने ठान लिया था कि कोच बनेंगे और खिला‍ड़ी तैयार करेंगे। साल 2002 में ऑल इंग्‍लैंड ओपन चैंपियन जीतने के दो साल बाद वे कोच बन गए थे। साइना नेहवाल, पीवी सिंधू, किदाम्‍बी श्रीकांत और परुपल्‍ली कश्‍यप जैसे खिलाड़ी उनके ही तैयार किए हुए हैं। 2006 में वे नेशनल कोच बने थे और आज इस पद पर उन्‍हें 10 साल हो चुके हैं।

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    गोपीचंद जब अपने खेल के चरम पर थे तब उन्‍हें सॉफ्ट ड्रिंक बनाने वाली कंपनी की ओर से एंडॉर्समेंट का ऑफर मिला था। लेकिन उन्‍होंने यह ऑफर ठुकरा दिया। कई दिनों बाद इस बात का खुलासा हुआ था। इस बारे में उन्‍होंने कहा था कि जिस चीज को वे नहीं पीते उसे दूसरों को पीने के लिए कैसे कह सकते हैं। गोपी ने कहा था कि वे जब इसको प्रमोट करेंगे तो गरीब परिवार भी इसे देखेंगे और खरीद लेंगे। उन्‍हें इस चीज की जरूरत नहीं है। इस घटना के कई साल बाद अमिताभ बच्‍चन ने भी पेप्‍सी का विज्ञापन करने से इनकार कर दिया था। उस समय गोपी ने उनके कदम की तारीफ की थी।

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    गोपी के बारे में उनके पूर्व साथी अरविंद भट्ट कहते हैं कि वह काफी सख्‍त कोच हैं। फिटनेस पर उनका काफी जोर रहता है। उनका मानना है कि ट्रेन तोड़ देने वाली होनी चाहिए। दिन में दो बार तीन-तीन घंटे के ट्रेन सेशन होते थे। इनमें रनिंग, स्‍ट्रोक प्रेक्टिस, जिम सेट शामिल होते थे और इन्‍हें बार-बार दोहराया जाता था। गोपी का मानना है कि फिटनेस पहले और टैलेंट बाद में आता है। वे खिलाड़ी की सारी जिम्‍मेदारी अपने पर ले लेते हैं। उनके साथ ऐसा है जैसे एक जनरल जंग में जा रहा है।

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    गोपी के शिष्‍य किदाम्‍बी श्रीकांत आंध्र प्रदेश के गुंटुर जिले के रहने वाले हैं। उनका कहना है कि गोपी सर को देखकर ही उन्‍होंने बैडमिंटन खेलना शुरू किया। श्रीकांत इस समय भारत के नंबर एक पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी हैं। गोपी अपने खिलाडि़यों को शाम को बाहर नहीं जाने देते। साथ ही उन्‍हें मोबाइल भी केवल रविवार को ही मिलता है। खुद गोपी पहले क्रिकेटर बनना चाहते थे लेकिन बाद में उन्‍होंने रैकेट उठा लिया। गोपी बताते हैं, 'उन्‍होंने आईआईटी में पढ़ने के लिए एग्‍जाम दिया था। लेकिन वे पास नहीं कर पाए। इसके बाद जिंदगी ने मोड़ लिया।'' (Express Archive)

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    गोपी साल 1994 में डबल्‍स मुकाबले में चोटिल हो गए थे। इसके बाद उनके घुटने की सर्जरी हुई थी। साल भर तक वे चल नहीं पाए थे लेकिन गोपी ने वापसी की और लगातार छह बार नेशनल चैंपियन बने। इस अवधि में उन्‍होंने एक भी मैच नहीं गंवाया था। (Express Archive)

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    खिलाडि़यों की ट्रेनिंग के दौरान वह खुद भी अभ्‍यास करते हैं। वे खुद दौड़ते रहते हैं। उनके बारे में गोपीचंद एकेडमी के बच्‍चों का कहना है, 'भैया भागते हैं। हम कैसे बैठे रहें।' गोपी नई चीजों को आजमाने से भी नहीं कतराते हैं। इस बारे में भट्ट कहते हैं कि 2012 में गोपीचंद केटोजेनिक डायट पर चले गए थे। इस डायट में हाई फैट और कम कार्बोहायड्रेट होता है। इसके चलते शरीर से फैट कम होने लगता है। उस समय साल भर तक गोपी इसी डायट पर रहे। इस दौरान वे काफी फिट हो गए थे। लेकिन खिलाडि़यों पर उन्‍होंने इसे लागू नहीं किया। (Express Archive)

  • pulela gopichand, PV sindhu, sindhu gopichand, badminton, rio olympics 2016, pulela gopichand coach, gopichand facts, gopichand pics

    गोपी की शादी पीवी लक्ष्‍मी से हुई है। लक्ष्‍मी खुद भी बैडमिंटन की खिलाड़ी रह चुकी हैं और नेशनल चैंपियन भी रही हैं। दोनों का एक बेटा और एक बेटी है। बेटी भी एकेडमी में अन्‍य खिलाडि़यों की तरह ही बैडमिंटन की प्रेक्टिस करती हैं। गोपी सुबह चार बजे एकेडमी पहुंच जाते हैं और इसके बाद सबसे अंत में वापस आते हैं। ऑल इंग्‍लैंड टूर्नामेंट जीतने पर उन्‍हें राज्‍य सरकार ने पांच एकड़ जमीन दी थी। इसी पर उन्‍होंने अपनी एकेडमी बनाई। एकेडमी के लिए पैसों की कमी पर उन्‍होंने अपना घर गिरवी रखकर तीन करोड़ रुपये लगाए थे। बाद में अन्‍य लोगों ने मदद की थी। (Express Archive)

ब्रेकिंग न्‍यूज, अपडेट, एनालिसिस, ब्‍लॉग के लिए फेसबुक पेज लाइक, ट्विटर हैंडल फॉलो करें और गूगल प्लस पर जुड़ें

एंटरटेनमेंट की खबरें, फोटोज , वीडियो के लिए हमें फेसबुकं पर फॉलो करें


हर पल अपडेट रहने के लिए JANSATTA APP डाउनलोड करें। ANDROID लिंक और iOS लिंक।

  1. No Comments.
सबरंग