December 09, 2016

ताज़ा खबर

 

IRCTC: रेल यात्रियों के लिए राहत की खबर, आज से आनलाइन बुकिंग पर 31 दिसंबर तक नहीं लगेगा सर्विस चार्ज

आईआरसीटी वेबसाइट के जरिये ट्रेन टिकट की आनलाइन बुकिंग कल से सस्ती होगी। सरकार ने नोटबंदी के मद्देनजर नकद रहित लेन-देन को प्रोत्साहित करने के लिये सेवा कर से छूट देने का फैसला किया है। य

Author नई दिल्ली | November 23, 2016 10:44 am

आईआरसीटी वेबसाइट के जरिये ट्रेन टिकट की आनलाइन बुकिंग आज से सस्ती होगी। सरकार ने नोटबंदी के मद्देनजर नकद रहित लेन-देन को प्रोत्साहित करने के लिये सेवा कर से छूट देने का फैसला किया है। यह छूट दिसंबर तक रहेगी। रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि 23 नवंबर से 31 दिसंबर तक आईआरसीटीसी की वेबसाइट के जरिये टिकट बुकिंग पर सेवा कर नहीं लगेगा। आईआरसीटीसी के जरिये टिकटों की बुकिंग पर ‘स्लीपर क्लास’ के लिये 40 रुपए एवं ‘एसी क्लास’ के लिये 40 रुपए लगता है। आनलाइन बुकिंग के जरिये नकद रहित लेन-देन को प्रोत्साहित करने के इरादे से सेवा कर से छूट दी गयी है।

गौरतलब है कि नोटबंदी के फैसले के बाद सरकार ने लोगों की राहत के लिए कई सराहनीय कदम उठाए थे। इस फैसले के बाद ही रेलवे ने पुराने 500 व 1000 रुपए के नोट लेने की समयसीमा बढ़ा दी थी। नरेंद्र माेदी सरकार द्वारा बंद किए गए नोटों का इस्‍तेमाल 24 नवंबर तक टिकट खरीदने एवं ऑनबोर्ड कैटरिंग के लिए किया जा सकेगा। दूसरी तरफ, यात्रियों की सुविधा के लिए, नागरिक उड्डयन मंत्रालय ने सभी एयरपोर्ट्स पर 21 नवंबर की मध्‍यरात्रि तक पार्किंग शुल्‍क वसूली रोक दी है। 8-9 नवंबर की रात को 500 व 1000 रुपए के नोट बंद करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने पुरानी करेंसी को सरकारी अस्‍पतालों, रेलवे टिकटों, पब्लिक ट्रांसपोर्ट, एयरलाइन टिकटिंग, मिल्‍क बूथ, शमशान स्‍थलों तथा पेट्रोल पंपों पर 72 घंटों के लिए स्‍वीकार किए जाने का ऐलान किया था। इसके बाद सरकार ने इस लिस्‍ट को और बड़ा करते हुए मेट्रो रेल टिकट्स, हाइवे और रोड टोल, डॉक्‍टरी प्रिस्क्रिप्‍शन पर दवाइयों की खरीद, एलपीजी गैस सिलेंडर्स, रेलवे कैटरिंग, बिजली और पानी बिल तथा एएसआई इमारतों के प्रवेश टिकटों के लिए भी पुराने 500 व 1000 के नोट इस्‍तेमाल की छूट दी थी।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 23, 2016 10:37 am

सबरंग