ताज़ा खबर
 

SFI छात्र का दावा- रोहित वेमुला मामले में आंदोलन के लिए कांग्रेस और वामपंथी दलों ने खर्च किए पैसे

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई के नेता ने राज कुमार साहू का कहना है कि रोहित वेमुला की मौत को लेकर आंदोलन का खर्च कांग्रेस, वामपंथी अवसरवादी राजनीतिक दलों ने उठाया था।
हैदराबाद यूनिवर्सिटी के पीएचडी स्‍कॉलर रोहित वेमुला होस्टल के अपने कमरे में लटके हुए मिले थे।

हैदराबाद यूनिवर्सिटी में वामपंथी छात्र संगठन एसएफआई के नेता ने राज कुमार साहू का कहना है कि रोहित वेमुला की मौत को लेकर आंदोलन का खर्च कांग्रेस, वामपंथी अवसरवादी राजनीतिक दलों ने उठाया था। साहू ने एक अंग्रेजी चैनल से बातचीत में यह दावा किया। साहू ने कहा कि इसी के चलते उन्‍होंने एसएफआई से इस्‍तीफा दे दिया। इस्तीफा देने वाले राजकुमार ने कहा कि चार महीनों तक जारी रहे विरोध प्रदर्शन भी रोहित वेमुला को न्याय नहीं दिला पाए। अपने इस्‍तीफे में उन्‍होंने लिखा, ”एसएफआई तथा एचसीयू में मौजूदा माहौल गंदा हो चुका है। एसएफआई की राजनीति अवसरवादी हो गई है और सिद्धांतों पर आधारित नहीं है।”

साहू के बयान के बाद केंद्रीय मंत्री वैंकेया नायडू ने  Tweet कर कांग्रेस और वामपंथी दलों को घेरा। उन्‍होंने कहा,”रोहित वेमुला से जुड़े मामले में कांग्रेस और वामपंथियों की भूमिका की पोल खुल गई है।”

गौरतलब है कि हैदराबाद यूनिवर्सिटी के पीएचडी स्‍कॉलर रोहित वेमुला होस्टल के अपने कमरे में लटके हुए मिले थे। वेमुला स्‍कॉलराशिप ने मिलने से परेशान थे। इस घटना के बाद काफी हंगामा हुआ था। विपक्षी दलों ने केंद्र सरकार को इस मामले में घेरा था। केंद्रीय मंत्री बंडारू दत्‍तात्रेय निशाने पर रहे थे। उनका इस्‍तीफा भी मांगा गया थाा। पिछले दिनों रोहित की मां और भाई ने बौद्ध धर्म ग्रहण कर लिया

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. R
    rahul
    May 13, 2016 at 9:50 am
    वैसे इसमे अनैतिक क्या है ? क्या वैमुला की आत्महत्या के पीछे राजनीतिक दबाव नहीं था ? विपक्ष का तो फर्ज है कि ऐसी घटनाओं को लेकर सरकार पर दबाब बनाये
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग