ताज़ा खबर
 

रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए: नटराज के दोहरे शतक से ओड़ीशा का विशाल स्कोर

नटराज बेहड़ा के नाबाद दोहरे शतक की मदद से ओड़ीशा ने हरियाणा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए क्रिकेट मैच में सोमवार को यहां अपनी पहली पारी छह विकेट पर 529..
Author लाहली | November 16, 2015 23:11 pm

नटराज बेहड़ा के नाबाद दोहरे शतक की मदद से ओड़ीशा ने हरियाणा के खिलाफ रणजी ट्रॉफी ग्रुप ए क्रिकेट मैच में सोमवार को यहां अपनी पहली पारी छह विकेट पर 529 रन बनाकर समाप्त घोषित की। नटराज ने नाबाद 255 रन बनाए, जो उनके करियर का सर्वोच्च स्कोर है। उन्होंने अपनी पारी में 453 गेंद का सामना किया और 19 चौके व चार छक्के लगाए। उन्होंने रणजीत सिंह (112) के साथ दूसरे विकेट के लिए 282 रन की बड़ी साझेदारी की। रणजीत सोमवार को अपने स्कोर में केवल तीन रन जोड़ पाए।

बाद में नटराज को हल्दर दास (93) के रूप में अच्छा साथी मिला जिनके साथ उन्होंने छठे विकेट के लिए 154 रन जोड़े। हरियाणा की तरफ से हर्षल पटेल और जयंत यादव ने दो-दो विकेट लिए। हरियाणा ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक अपनी पहली पारी में बिना किसी नुकसान के 38 रन बनाए हैं। स्टंप उखड़ने के समय राहुल दीवान 26 और नितिन सैनी 12 रन पर खेल रहे थे।

बिष्ट का भी शतक, हिमाचल का विशाल स्कोर:

राजकोट। सलामी बल्लेबाज प्रशांत चोपड़ा के शतक के बाद रोबिन बिष्ट ने भी शतक जड़ा जिससे हिमाचल प्रदेश ने रणजी ट्राफी क्रिकेट ग्रुप सी मैच के दूसरे दिन सौराष्ट्र के खिलाफ पांच विकेट पर 551 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। हिमाचल की टीम सोमवार को तीन विकेट पर 310 रन से आगे खेलने उतरी। चोपड़ा ने 108 रन से आगे खेलते हुए 187 रन बनाए जबकि बिष्ट 30 रन से आगे खेलते हुए 101 रन की पारी खेलने में सफल रहे। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 99 रन की साझेदारी भी की।

बिष्ट ने इसके बाद निखिल गंगटा (77) के साथ भी पांचवें विकेट के लिए 120 रन जोड़े। ऋषि धवन ने भी 55 रन की पारी खेली।
हिमाचल की टीम ने एक समय पांच विकेट पर 525 रन बना लिए थे लेकिन इसके बाद उसने अपने अंतिम पांच विकेट 26 रन जोड़कर गंवा दिए। सौराष्ट्र की ओर से जयदेव उनादकट सबसे सफल गेंदबाज रहे जिन्होंने 69 रन देकर चार विकेट चटकाए। इसके जवाब में सौराष्ट्र ने दिन का खेल खत्म होने तक नौ ओवर में बिना विकेट खोए 21 रन बनाए। अवि बरोत 11 जबकि मोहसिन दोदिया नौ रन बनाकर खेल रहे हैं। सौराष्ट्र की टीम अब भी 530 रन से पीछे है जबकि उसके सभी विकेट शेष हैं।

प्रवीण कुमार ने तमिलनाडु को झकझोरा:

कानपुर। मध्यम गति के गेंदबाज प्रवीण कुमार ने सोमवार को यहां तमिलनाडु के शीर्ष क्रम को झकझोर कर रणजी ट्राफी ग्रुप बी क्रिकेट मैच में उत्तर प्रदेश का पलड़ा भारी कर दिया। तमिलनाडु ने उत्तर प्रदेश के 348 रन के जवाब में छह रन के स्कोर पर तीन विकेट गंवा दिए थे। उसे ये तीनों झटके प्रवीण (42 रन देकर तीन विकेट) ने दिए। इसके बाद विजय शंकर (92) और बाबा इंद्रजीत (44) ने चौथे विकेट के लिए 105 रन की साझेदारी करके स्थिति संभाली लेकिन दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक तमिलनाडु छह विकेट पर 174 रन बनाकर जूझ रहा था। वह अभी भी उत्तर प्रदेश से 174 रन पीछे है।

प्रवीण ने अपने पहले ओवर में ही बाबा अपराजित और दिनेश कार्तिक को पवेलियन भेजा और फिर कप्तान अभिनव मुकुंद (दो) को भी आउट करके तमिलनाडु के खेमे में खलबली मचाई। स्टंप उखड़ने के समय आर प्रसन्ना 25 और अश्विन क्रीस्ट एक रन पर खेल रहे थे। इससे पहले उत्तर प्रदेश ने भी अपने आखिरी छह विकेट 38 रन के अंदर गंवाए। उसने सुबह चार विकेट पर 277 रन से आगे खेलना शुरू किया। सुरेश रैना (61) अपने रविवार के स्कोर में केवल नौ रन जोड़ पाए जबकि सौरभ कुमार ने 41 रन की पारी खेली। तमिलनाडु की तरफ से अश्विन क्रीस्ट और एम रंगराजन ने तीन-तीन विकेट लिए।

हेरवादकर के शतक से मुंबई को बढ़त:

मुंबई। सलामी बल्लेबाज अक्षय हेरवादकर के शतक और बीच में विकेट निकलने के बावजूद उनकी दो शतकीय साझेदारियों की मदद से मुंबई रणजी ट्राफी ग्रुप बी क्रिकेट मैच में सोमवार को यहां रेलवे पर पहली पारी में बढ़त हासिल करने में सफल रहा। मुंबई ने रेलवे के 217 रन के जवाब में दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक नौ विकेट पर 330 रन बनाए और उसे 113 रन की बढ़त हासिल हो गई है।

मुंबई को मजबूत स्थिति में पहुंचाने का श्रेय 21 वर्षीय हेरवादकर को जाता है जिन्होंने 145 रन की पारी खेली और इस बीच श्रेयस अय्यर (57) के साथ तीसरे विकट के लिए 127 और निखिल पाटील (नाबाद 82) के साथ सातवें विकेट के लिए 124 रन की साझेदारी की।

मुंबई ने सुबह दो विकेट पर चार रन से आगे खेलना शुरू किया। हेरवादकर और अय्यर ने शुरू में विश्वसनीय बल्लेबाजी की लेकिन यह साझेदारी टूटते ही लेग स्पिनर कर्ण शर्मा ने मुंबई का मध्यक्रम लड़खड़ा दिया। मुंबई ने 16 रन के अंदर चार विकेट गंवा दिए जिससे उसका स्कोर छह विकेट पर 147 रन हो गया। हेरवादकर को यहां से पाटील के रूप में अच्छा सहयोगी मिला। उन्होंने कर्ण शर्मा का पांचवां शिकार बनने से पहले 220 गेंदें खेली तथा 15 चौके और दो छक्के लगाए। कर्ण ने अब तक 90 रन देकर छह विकेट लिए हैं।

केरल का विशाल स्कोर:

पोरवोरिम (गोवा)। राबर्ट फर्नांडीस और फाबिद अहमद के शतकों की मदद से केरल ने रणजी ट्राफी ग्रुप सी क्रिकेट मैच में अपनी पहली पारी में 441 रन बनाने के बाद गोवा को शुरू में ही दो करारे झटके दिए।
गोवा ने दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक दो विकेट पर 81 रन बनाए हैं और वह केरल से अभी 360 रन पीछे है। स्टंप उखड़ने के समय अमोघ देसाई 38 और अमित यादव एक रन पर खेल रहे थे।

केरल ने सुबह अपनी पारी पांच विकेट पर 224 रन से आगे बढ़ाई। उसने अक्षय कुडोथ (35) का विकेट जल्दी गंवा दिया लेकिन राबर्ट (119) और फाबिद (106) ने शानदार पारियां खेली। इन दोनों ने सातवें विकेट के लिए 129 रन की साझेदारी की। गोवा की तरफ से अमित यादव ने चार जबकि पी परमेश्वरन और शादाब जकाती ने दो-दो विकेट लिए।

चटर्जी के शतक से बंगाल के आठ विकेट पर 528 रन:

पुणे। युवा बल्लेबाज सुदीप चटर्जी के करिअर के पांचवें शतक की बदौलत बंगाल ने रणजी ट्राफी ग्रुप ए मैच के दूसरे दिन सोमवार को यहां महाराष्ट्र के खिलाफ आठ विकेट पर 528 रन का विशाल स्कोर खड़ा किया। बंगाल की टीम सोमवार को तीन विकेट पर 239 रन से आगे खेलन२े उतरी थी। चटर्जी ने 147 रन की पारी खेलने के अलावा श्रीवत्स गोस्वामी (51) के साथ चौथे विकेट के लिए 104 जबकि पंकज शॉ (57) के साथ पांचवें विकेट के लिए 129 रन की साझेदारी की।

बंगाल की ओर से सोमवार को आमिर गनी (59) ने भी अर्धशतक जड़ा जबकि रविवार को दोनों सलामी बल्लेबाजों अभिमन्यु ईश्वरन (65) और सायन मंडल (58) ने रविवार को अर्धशतक जड़े थे। चटर्जी सोमवार को 51 जबकि गोस्वामी 21 रन से आगे खेलने उतरे। चटर्जी ने अपने पांचवें शतक के दौरान 311 गेंद का सामना करते हुए 19 चौके जड़े। महाराष्ट्र की ओर से चिराग खुराना ने 141 रन देकर चार विकेट हासिल किए जबकि समद फल्लाह ने 102 रन देकर दो विकेट चटकाए।

गुजरात ने मध्य प्रदेश को बैकफुट पर भेजा :

सूरत। गुजरात ने गेंदबाजों के अनुशासित प्रदर्शन के दम पर सोमवार को यहां मध्य प्रदेश की बल्लेबाजी को चरमरा कर रणजी ट्राफी ग्रुप बी क्रिकेट मैच में अपना पलड़ा भारी कर दिया। मध्य प्रदेश ने गुजरात के 311 रन के जवाब में दूसरे दिन का खेल समाप्त होने तक सात विकेट पर 187 रन बनाए हैं और वह अभी पहली पारी में 124 रन से पीछे चल रहा है।

नमन ओझा (56) को छोड़कर मध्य प्रदेश का कोई भी बल्लेबाज टिककर नहीं खेल पाया। कप्तान देवेंद्र बुंदेला ने 28 रन बनाए जबकि हरप्रीत सिंह 28 रन बनाकर खेल रहे हैं। गुजरात ने छह गेंदबाजों का इस्तेमाल किया जिनमें से अभी तक सभी को सफलता मिली है। आर पी सिंह (51 रन देकर दो विकेट) अभी तक उसके सबसे सफल गेंदबाज हैं। इससे पहले सुबह गुजरात ने छह विकेट पर 252 रन से अपनी पारी आगे बढ़ाई। अक्षर पटेल (55) अर्धशतक जमाने में सफल रहे जबकि रविवार के दूसरे अविजित बल्लेबाज रस कलारिया ने 38 रन बनाए। मध्य प्रदेश की तरफ से जलज सक्सेना ने तीन जबकि पुनीत दाते और अंकित कुशवाह ने दो-दो विकेट लिए।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.