December 11, 2016

ताज़ा खबर

 

SYL Canal: राष्ट्रपति से मिला पंजाब कांग्रेस का प्रतिनिधिमंडल

पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में आज पंजाब के कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिला और उनसे सतलुज-यमुना लिंक नहर के मुद्दे पर ध्यान देने के लिए एक समिति के गठन की मांग की।

Author नई दिल्ली | November 18, 2016 03:13 am

पंजाब प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष अमरिंदर सिंह के नेतृत्व में आज पंजाब के कांग्रेस नेताओं का प्रतिनिधिमंडल राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मिला और उनसे सतलुज-यमुना लिंक नहर के मुद्दे पर ध्यान देने के लिए एक समिति के गठन की मांग की। प्रतिनिधिमंडल ने साथ ही राष्ट्रपति से केंद्र को उच्चतम न्यायालय के सुझाव पर कोई कार्रवाई करने से पहले जमीनी सच्चाई तथा पानी की उपलब्धता पर ध्यान देने का निर्देश देने की भी मांग की। सिंह ने दावा किया कि अगर पंजाब से पानी का रूख हरियाणा की तरफ मोड़ा गया तो इससे करीब दस लाख एकड़ जमीन सूखी और बंजर हो जाएगी तथा 2,00,000 किसान और इतने ही भूमिहीन मजदूर अपनी आजीविका खो देंगे। पार्टी के नेताओं ने राष्ट्रपति के सामने यह चिंता भी जतायी कि इस फैसले से पंजाब में हिंसा शुरू हो रही है क्योंकि मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले के बाद स्थिति बेहद नाजुक और तनावपूर्ण है।

सिंह ने कहा, ‘‘अगर पंजाब के लोगों को पानी नहीं मिला तो तनाव पैदा होना निश्चित है जो हिंसा में बदल सकता है।’ उन्होंने आरोप लगाया कि पंजाब की प्रकाश बादल सरकार अपनी ‘‘गैरजिम्मेदाराना’’ कार्रवाइयों से ‘भावनाएं और भड़का रही’’ है तथा स्थिति को ‘‘बदतर’’ कर रही है। उसकी इन कार्रवाइयों में राज्य विधानसभा में दो ‘‘अतार्किक’’ प्रस्ताव पारित करना शामिल है। कांग्रेस नेता ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘हमने राष्ट्रपति से मामले में ध्यान देने और केंद्र को उच्चतम न्यायालय के फैसले पर कार्रवाई करने से पहले जमीनी सच्चाई को देखने का निर्देश देने का अनुरोध किया।

और इसपर ध्यान देने का मतलब है कि एक समिति का गठन किया जाना चाहिए।’ उच्चतम न्यायालय के फैसले पर दिल्ली के मुख्यमंत्री और आप नेता अरविंंद केजरीवाल के लगातार चुप्पी साधे रहने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने अपनी मांग दोहरायी कि केजरीवाल मुद्दे पर अपना रूख साफ करें। सिंह ने कहा, ‘‘अगर केजरीवाल पंजाब के मुख्यमंत्री बनना चाहते हैं, जो उनका लक्ष्य लग रहा है, तो उन्हें साफ करना चाहिए कि वह जरूरत की इस घड़ी में राज्य के लोगों के साथ हैं या नहीं हैं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 18, 2016 3:12 am

सबरंग