ताज़ा खबर
 

भगवान विष्णु की जगह पैगंबर मुहम्मद और गुरुनानक लिख कर नरेश अग्रवाल को किया जा रहा है ट्रोल

@Sickularlibtard नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया कि अगर नरेश अग्रवाल कुछ ऐसा कहते तो कम्युनल कहलाता- 'विस्की में गुरुनानाक बसे, रम में श्री बुद्ध, जिन में पिता येशू और ठर्रे में मोहम्मद।'
राज्‍य सभा में बोलते सपा सांसद नरेश अग्रवाल। (Source: RSTV)

समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता नरेश अग्रवाल ने बुधवार को राज्यसभा में हिंदू देवी-देवताओं के बारे में विवादास्पद टिप्पणी की, जिसका भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने पुरजोर विरोध किया। सत्ताधारी पार्टी के सदस्यों ने अग्रवाल की टिप्पणी का विरोध किया, जिसके बाद उन्होंने उसे वापस लेते हुए माफी मांगी। सोशल मीडिया पर सपा सांसद के इस विवादित बयान से अब हिंदू देवी देवताओं के नाम की जगह दूसरे धर्म और संप्रदायों के देवताओं के नाम जोड़कर वायरल करने की कोशिश की जा रही है। आपको बता दें कि नरेश अग्रवाल राज्यसभा में गोरक्षा के नाम पर भीड़ द्वारा हत्या (लिंचिंग) पर चर्चा में हिस्सा ले रहे थे, जिस दौरान उन्होंने सन् 1991 की एक घटना का जिक्र किया, जब वह उस स्कूल में गए, जिसे जेल में तब्दील कर दिया गया था। उन्होंने कहा कि हिंदुओं के कुछ देवताओं के नामों को शराब की किस्मों से जोड़ा गया था और ये बातें स्कूल की दीवार पर लिखी हुई थीं। सत्ता पक्ष की तरफ इशारा करते हुए अग्रवाल ने कहा कि ये पंक्तियां ‘आपके लोगों’ द्वारा लिखी गई थीं। मंत्रियों सहित भाजपा के सदस्यों ने सपा सदस्य से माफी की मांग की और उन्होंने कहा कि वे किसी को भी ‘हिंदू देवी-देवताओं का अपमान’ नहीं करने देंगे।

 

नरेश अग्रवाल ने कहा था- ‘विस्की में विष्णु बसें, रम में श्री राम, जिन में माता जानकी और ठर्रे में हनुमान, सियावर राम चंद्र की जय’। लाइम्स ऑफ इइंडिया नाम के फेसबुक पेज पर इसी तर्ज में लिखा गया- ‘विस्की में मुहम्मद बसें, रम में मुहम्मद के खास, जिन में माता मरियम और ठर्रे में जीसस, अल्लाह हू अकबर: नरेश अग्रवाल।’ लाइम्स ऑफ इंडिया की ये लाइनें फेसबुक पर वायरल होने लगीं।


फेसबुक की तरह ट्विटर पर भी लोग सपा सांसद के बयान को दूसरे ढंग से लिख रहे हैं। @Sickularlibtard नाम के ट्विटर हैंडल से लिखा गया कि अगर नरेश अग्रवाल कुछ ऐसा कहते तो कम्युनल कहलाता- ‘विस्की में गुरुनानाक बसे, रम में श्री बुद्ध, जिन में पिता येशू और ठर्रे में मोहम्मद।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग