ताज़ा खबर
 

और कितनी निर्भया की जरूरत: मालीवाल

राजधानी के एक अस्पताल में रविवार को 14 साल की दलित बलात्कार पीड़िता के दम तोड़ने के बाद दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्लू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर केंद्र और दिल्ली पुलिस पर जमकर हमला किया।
Author July 25, 2016 03:39 am
दिल्‍ली महिला आयोग की अध्‍यक्ष स्‍वाति मलिवाल।

राजधानी के एक अस्पताल में रविवार को 14 साल की दलित बलात्कार पीड़िता के दम तोड़ने के बाद दिल्ली महिला आयोग (डीसीडब्लू) की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने महिलाओं की सुरक्षा को लेकर एक बार फिर केंद्र और दिल्ली पुलिस पर जमकर हमला किया। वहीं मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी कहा कि यह बेहद शर्मनाक है कि मोदी सरकार ने दिल्ली पुलिस को महिलाओं की सुरक्षा से हटाकर राजनीतिक विरोधियों की गिरफ्तारी में लगा दिया है।

दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने ट्वीट कर सवाल किया, ‘दिल्ली को और कितनी निर्भया की जरूरत है? हम अगली निर्भया के मरने का इंतजार करते रहते हैं।’ पीड़िता के दर्दनाक हालत को बयान करते हुए मालीवाल ने कहा, बच्ची को जबरन जहरीला पदार्थ खिलाया गया जिससे उसके अंदरूनी अंग पूरी तरह से खराब हो गए और उसकी काफी दर्दनाक स्थिति में मौत हो गई।’ उन्होंने कहा कि आयोग की ओर से डीसीपी (उत्तर) को नोटिस जारी करने के बाद खुलेआम घूम रहे आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

स्वाति मालीवाल ने केंद्र से गृह मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में महिला सुरक्षा पर उच्चस्तरीय मंत्रिमंडल समिति बनाने की मांग दोहराई। उन्होंने कहा, ‘गृह मंत्रालय ने दिल्ली के महिला सुरक्षा विशेष कार्यबल को भंग कर जख्म पर और नमक छिड़क दिया।’ मालीवाल ने कहा, ‘वह मर चुकी है। हमारी व्यवस्था जिम्मेदार है। कभी इतना असहाय महसूस नहीं किया। कुछ करने की जरूरत है।’ एक और ट्वीट में मालिवाल ने कहा, ‘अभी तक सोनी के आरोपी रमेश को भी गिरफ्तार नहीं किया गया है? क्यों? सोनी और इस दलित बच्ची को न्याय दो।’

मोदी सरकार से सवाल करते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा, ‘मोदी की पुलिस महिलाओं के खिलाफ अपराध करने वालों को क्यों नहीं गिरफ्तार करती।’ बलात्कार पीड़िता पर स्वाति मालीवाल के ट्वीट्स को रीट्वीट करते हुए केजरीवाल ने मोदी सरकार के इस रवैए को शर्मनाक बताया। मालीवाल ने हाल ही में दिल्ली में महिला सुरक्षा पर बने विशेष कार्यबल को भंग करने के लिए केंद्र की आलोचना की थी। इसका गठन 2013 में निर्भया सामूहिक बलात्कार के बाद किया गया था।

गृह मंत्रालय ने दिल्ली के महिला सुरक्षा विशेष कार्यबल को भंग कर जख्म पर और नमक छिड़क दिया। वह मर चुकी है। हमारी व्यवस्था जिम्मेदार है। कुछ करने की जरूरत है।’
-स्वाति मालीवाल दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. M
    ms
    Jul 25, 2016 at 3:22 am
    भगवन करे की पंजाब में केजरी की सरकार बने इसका झूटी राजनीती का पर्दा फास हो जाये घटिया आदमी
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग