ताज़ा खबर
 

रेलवे चंबल में अब एक्सप्रेस ट्रेन का तोहफा देने को तैयार

बाह बटेश्वर आगरा रेल लाइन पर पैसेंजर व मालगाड़ी चलने के बाद अब एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं।
Author इटावा | July 28, 2016 04:15 am

बाह बटेश्वर आगरा रेल लाइन पर पैसेंजर व मालगाड़ी चलने के बाद अब एक्सप्रेस ट्रेनें चलाने की तैयारियां शुरू हो गई हैं। अभी तक इस रेल लाइन पर उदी स्टेशन से भांडई स्टेशन तक ट्रेनों की रफ्तार 50 किलोमीटर प्रतिघंटा थी, जो अब 80 किलो मीटर प्रति घंटे की गई है।

रेलवे सूत्रों के अनुसार कई प्रमुख एक्सप्रेस ट्रेनों को इस नई रेल लाइन पर चलाने की तैयारी चल रही है। क्योंकि हावड़ा-दिल्ली रेल मार्ग अधिक व्यस्त होने से आए दिन ट्रेनों की लेटलतीफी के कारण यात्रा परेशान होते हैं। नई रेल लाइन पर अजीमाबाद एक्सप्रेस, तूफान एक्सप्रेस, सियालदह-अजमेर एक्सप्रेस, जोधपुर -हावड़ा एक्सप्रेस चलाने की योजना है। अगर ये ट्रेनें नई लाइन पर चलती हैं, तो यात्रियों को काफी राहत मिलेंगी।

आगरा रेल लाइन पर एक पैसेंजर ट्रेन के साथ महीने में लगभग 100 मालगाड़ियां चलाई जा रही हैं। सात महीने बाद ट्रेनों की रफ्तार बढ़ाई गई है। माना जा रहा है कि इस रेल लाइन पर कई एक्सप्रेस ट्रेनें शुरू हो सकती हैं। ट्रेनों की रफ्तार बढ़ने से पैसेंजर ट्रेन के यात्रियों को लाभ मिलेगा। क्योंकि अभी तक यह ट्रेन आए दिन देरी से आती जाती हैं।

बाह-बटेश्वर-आगरा रेल लाइन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी का ड्रीम प्रोजेक्ट था। लंबे समय त क यह परियोजना अधूरी पड़ी रही थी। 24 दिसंबर 2015 को रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा ने बटेश्वर में आयोजित एक समारोह में डेमू ट्रेन को झंडी दिखा कर इटावा के लिए रवाना किया था, तभी से इस लाइन पर ट्रेनों का संचालन शुरु हो गया था। अभी तक एक डेमू ट्रेन सुबह इटावा से आगरा के लिए जाती है और शाम को यह आगरा से इटावा लौटती है।

इटावा से आगरा की दूरी इस मार्ग पर 138 किलोमीटर है। इटावा से उदी की दूरी 11 किलोमीटर की है। इस पर ट्रेन की रफ्तार 60 किलोमीटर प्रतिघंटा है। जबकि उदी से भांडई की दूरी लगभग 120 किलोमीटर है और इस पर रफ्तार 50 किलोमीटर प्रतिघंटा थी, जो अब 80 किलोमीटर प्रतिघंटा की गई है। भांडई से आगरा तक ट्रेन की रफ्तार 120 किलोमीटर प्रतिघंटा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.