ताज़ा खबर
 

पश्चिम बंगाल में भड़की हिंसा पर क्रिकेटर मोहम्मद कैफ ने कहा कुछ ऐसा कि जीत लिया लोगों का दिल

लोगों ने लिखा- अगर बाकि लोग भी मोहम्मद कैफ की तरह सोचने लगें तो इस्लाम की जैसी छवि बन गई है उसे सुधारा जा सकता है।
अपनी पत्नी के साथ क्रिकेटर मोहम्मद कैफ। फोटो सोर्स- ट्विटर

फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट को लेकर पश्चिम बंगाल के उत्तरी 24 परगना जिले में भड़की सांप्रदायिक हिंसा को लेकर भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार बल्लेबाज रहे मोहम्मद कैफ ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए ट्वीट किया है। दो धर्म के लोगों के बीच भड़की हिंसा पर मोहम्मद कैफ ने कहा है कि पैगम्बर मुहम्मद साहब इतने महान हैं कि उनके अपमान में किये गए फेसबुक पोस्ट के खिलाफ बचाव के लिए किसी की जरूरत नहीं है। मोहम्मद कैफ ने आगे ये भी लिखा कि करोड़ों की संपति को नुकसान पहुंचाना और हिंसा करना मोहम्मद साहब के बताए रास्ते के खिलाफ है, शर्म आनी चाहिये। मोहम्मद कैफ के इस ट्वीट ने लोगों का दिल जीत लिया है। यूजर्स उनके ट्वीट को रिट्वीट कर रहे हैं। अभी तक लगभग ढाई हजार यूजर्स इस ट्वीट को रिट्वीट कर चुके हैं। यूजर्स मोहम्मद कैफ के इस ट्वीट की तारीफ करते नहीं थक रहे हैं। कुछ यूजर्स ने तो ये तक कह दिया कि आप ऐसी बातें कर रहे हैं, कहीं आपके खिलाफ फतवा ना जारी हो जाए।  हालांकि कुछ यूजर्स ऐसे भी हैं जो इस ट्वीट को भी सांप्रदायिक चश्मे से देख रहे हैं।

 

बंगाल में एक किशोर ने फेसबुक पर पैगम्बर मुहम्मद को लेकर एक आपत्तिजनक पोस्ट डाल दी। फेसबुक पर डाली गई इस पोस्ट को लेकर बीते सोमवार की रात को बदुरिया और जिले के बशीरहाट उप-संभाग में दो समुदायों के बीच हिंसा हो गई थी। इसके बाद से हालात तनावपूर्ण हैं और मामले में एक युवक को गिरफ्तार भी किया गया। इसी घटना से दुखी होकर मोहम्मद कैफ ने ट्वीट किया।

 

कैफ के इस ट्वीट की तारीफ करते हुए लोग जमकर रिट्वीट कर रहे हैं। यूजर्स लिख रहे हैं कि काश देश का हर इंसान आपकी तरह ही सोचता। कुछ ने लिखा कि आपकी तरह सोचने वाले और लोग क्यों नहीं हो सकते। कुछ यूजर्स ने ये भी लिखा कि अगर बाकि लोग भी मोहम्मद कैफ की तरह सोचने लगें तो इस्लाम की जैसी छवि बन गई है उसे सुधारा जा सकता है।

देखिए दंगे की आग में जल रहे पश्चिम बंगाल के बशीरहाट की तस्वीरें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Sidheswar Misra
    Jul 7, 2017 at 12:27 pm
    कैफ ने जो भी लिखा वह सभी धर्म के चाहने वाले मानने वाले पर और देश भक्तो को नसीहत है। मंदिर की मूर्ति तोड़ने से भगवान का अपमान नहीं होता। मूर्ति तोड़नेवाला अल्ला की नजर में गिर जाता है।
    (0)(0)
    Reply
    सबरंग