February 26, 2017

ताज़ा खबर

 

चे ग्वेरा के पोस्टर हटाने के मामले में माकपा ने स्वीकारी भाजपा की चुनौती

माकपा ने आरोप लगाया कि आरएसएस और भाजपा दोनों ही राज्य में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं।

Author तिरुवनंतपुरम | January 11, 2017 16:43 pm
क्यूबा के हवाना में क्रांतिकारी चे ग्वेरा। (अक्टूबर, 1960/ AP/Press Association)

क्रांतिकारी चे ग्वेरा और राज्यभर में लगाए गए उनके पोस्टरों के खिलाफ भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के मुखर होने के कुछ ही दिन बाद माकपा ने बुधवार (11 जनवरी) को कहा कि पार्टी इसे चुनौती के रूप में लेती है और जो पोस्टर उसने लगाए हैं वह हटाए नहीं जाएंगे। माकपा के राज्य सचिव कोदियेरी बालाकृष्णन ने यहां संवाददाताओं से कहा कि भाजपा की राज्य इकाई के महासचिव एएन राधाकृष्णन ने चे ग्वेरा की तस्वीरें हटाने को कहा था जिसे पार्टी ने चुनौती के रूप में लिया। उन्होंने कहा, ‘हम आरएसएस-भाजपा की तानाशाही के मुताबिक काम नहीं करेंगे।’

उन्होंने आरोप लगाया कि आरएसएस और भाजपा दोनों ही राज्य में सांप्रदायिक तनाव पैदा करने की कोशिश कर रहे हैं और लेखक एम टी वासुदेवन नायर और फिल्म निर्देशक कमला पर हमला इसी का हिस्सा है। गत नौ जनवरी को राधाकृष्णन ने माकपा की युवा इकाई डीवाईएफआई द्वारा लगाए गए चे ग्वेरा के पोस्टरों और तस्वीरों को राज्य के सभी गांवों से हटाने को कहकर विवाद खड़ा कर दिया था। उन्होंने कहा था कि माकपा के कार्यकर्ता चे ग्वेरा के कुप्रभाव में आकर हिंसा में लिप्त होते हैं।

केरल हाईकोर्ट का आदेश- ‘पद्मनाभ मंदिर में सलवार-कमीज़ पहनकर न आएं महिलाएं’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on January 11, 2017 4:30 pm

सबरंग