ताज़ा खबर
 

आप के विवादास्पद घोषणापत्र पर दिल्ली अकाली दल का प्रदर्शन

आम आदमी पार्टी की ओर से पंजाब के चुनावों को लेकर जारी किए विवादास्पद घोषणा पत्र के विरोध में गुरुवार को दिल्ली अकाली दल और भाजपा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निवास के बाहर प्रदर्शन किया।
Author नई दिल्ली | July 8, 2016 04:03 am
दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल

आम आदमी पार्टी की ओर से पंजाब के चुनावों को लेकर जारी किए विवादास्पद घोषणा पत्र के विरोध में गुरुवार को दिल्ली अकाली दल और भाजपा ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के निवास के बाहर प्रदर्शन किया। उनका आरोप था कि आम आदमी पार्टी नेताओं की ओर से पंजाब और देश में धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

दिल्ली अकाली दल की ओर से किए गए प्रदर्शन की अगुआई अध्यक्ष मंजीत सिंह जीके ने की। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार की। प्रदर्शनकारी चंदगी राम अखाड़े के बाहर जुटे और वहां से केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आगे बढ़े।
मंजीत सिंह जीके ने कहा कि अकाली दल अपने गुरुओं का अपमान कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब चुनावों को लेकर आप पार्टी ने जो घोषणा पत्र जारी किया है, वह आप की सिख विरोधी मानसिकता दर्शाता है।

जीके ने आप पार्टी के मुखिया अविंद केजरीवाल से आशीष खेतान को पार्टी से बाहर करने की अपील की साथ ही उन्होंने केजरीवाल को सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की मांग भी रखी। भाजपा की ओर से प्रदर्शन करने वालो में भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री आरपी सिंह, हरशरण सिंह बल्ली, सुभाष आर्य, सुभाष सचदेवा, आशीष सूद, श्याम शर्मा, हरतीरथ सिंह, राजीव बब्बर जिला भाजपा अध्यक्ष राजकुमार ग्रोवर एवं महामंत्री अनिल यादव प्रमुख रूप से रहे। भाजपा के राष्ट्रीय मंत्री आरपी सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्टी के नेताओं की ओर से लगातार पंजाब एवं देश में साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

आम आदमी पार्र्टी के नेता आशीष खेतान ने जहां गुरु ग्रंथ साहिब एवं विभिन्न धर्म ग्रंथों से अपनी पार्र्टी के मेनिफेस्टो से मुकाबला कर धर्मावलंंबिओं की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ किया है वहीं कुछ दिन पूर्व दिल्ली के एक विधायक नरेश यादव ने कुरान का अपमान कर देश में दंगा भड़काने की साजिश रची।

उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मांग करती है कि अरविन्द केजरीवाल आशीष खेतान एवं नरेश यादव को पार्टी से निष्कासित करें और सिखों सहित सभी धर्मों के लोगों से माफी मांगे। उनका आरोप था कि आम आदमी पार्टी नेताओं की ओर से पंजाब और देश में धार्मिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है।

दिल्ली अकाली दल की ओर से किए गए प्रदर्शन की अगुआई अध्यक्ष मंजीत सिंह जीके ने की। प्रदर्शनकारियों को तितर-बितर करने के लिए पुलिस ने पानी की बौछार की। प्रदर्शनकारी चंदगी राम अखाड़े के बाहर जुटे और वहां से केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी करते हुए आगे बढ़े।
मंजीत सिंह जीके ने कहा कि अकाली दल अपने गुरुओं का अपमान कभी बर्दाश्त नहीं करेगा। उन्होंने कहा कि पंजाब चुनावों को लेकर आप पार्टी ने जो घोषणा पत्र जारी किया है, वह आप की सिख विरोधी मानसिकता दर्शाता है। जीके ने आप पार्टी के मुखिया अविंद केजरीवाल से आशीष खेतान को पार्टी से बाहर करने की अपील की साथ ही उन्होंने केजरीवाल को सार्वजनिक रूप से माफी मांगने की मांग भी रखी।
भाजपा की ओर से प्रदर्शन करने वालो में भाजपा के राष्टीय मंत्री आरपी सिंह, हरशरण सिंह बल्ली, सुभाष आर्य, सुभाष सचदेवा, आशीष सूद, श्याम शर्मा, हरतीरथ सिंह, राजीव बब्बर जिला भाजपा अध्यक्ष राजकुमार ग्रोवर एवं महामंत्री अनिल यादव प्रमुख रूप से रहे।

भाजपा के राष्टीय मंत्री आरपी सिंह ने कहा कि आम आदमी पार्र्टी के नेताओं की ओर से लगातार पंजाब एवं देश में साम्प्रदायिक सौहार्द बिगाड़ने का प्रयास किया जा रहा है। आम आदमी पार्र्टी के नेता आशीष खेतान ने जहां गुरु ग्रंथ साहिब एवं विभिन्न धर्म ग्रंथों से अपनी पार्र्टी के मेनिफेस्टो से मुकाबला कर धर्मावलंंबिओं की धार्मिक भावनाओं से खिलवाड़ किया है वहीं कुछ दिन पूर्व दिल्ली के एक विधायक नरेश यादव ने कुरान का अपमान कर देश में दंगा भड़काने की साजिश रची। उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी मांग करती है कि अरविन्द केजरीवाल आशीष खेतान एवं नरेश यादव को पार्टी से निष्कासित करें और सिखों सहित सभी धर्मों के लोगों से माफी मांगे।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.