ताज़ा खबर
 

देवबंद में दंगे की साजिश नाकाम, मूर्तियां तोड़ने वाला गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश के अति संवदेनशील नगर देवबंद में बुधवार देर शाम दंगे की साजिश नाकाम कर दी गई।
Author देवबंद (सहारनपुर) | July 28, 2016 01:59 am

उत्तर प्रदेश के अति संवदेनशील नगर देवबंद में बुधवार देर शाम दंगे की साजिश नाकाम कर दी गई। देवबंद नगर के रणखंडी रोड पर शास्त्री चौक के पास मंदिर में मूर्तियां खंडित कर दी गर्इं। पुलिस ने हथौड़े से मूर्तियां खंडित करने वाले युवक को गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस के मुताबिक एक युवक ने बुधवार शाम करीब पांच बजे मंदिर में लगी तीन मूर्तियां तोड़ डालीं। इलाके में इसकी खबर फैलते ही सैकड़ों लोग मंदिर के असपास जमा हो गए। पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी भी मौके पर पहुंच गए और लोगों को शांत किया। एसएसपी प्रदीप कुमार यादव ने बताया कि मूर्तियां तोड़ने का आरोपी 21 साल का सादिक है। उसे हथौड़े के साथ गिरफ्तार कर लिया गया है। उसके खिलाफ रासुका के तहत कार्रवाई की जाएगी।

उन्होंने बताया कि पुलिस और खुफिया विभाग की कई टीमें साजिश का भंडाफोड़ करने के लिए लगाई गई हैं। पुलिस ने इन आशंकाओं से इनकार नहीं किया कि मूर्तियां खंडित करने के पीछे कोई बड़ी साजिश हो सकती है। कांवड़ यात्रा के चलते मंदिरों में श्रद्धालुओं की भीड़ लगी हुई है। माना जा रहा है कि घटना के पीछे देवबंद जैसे संवेदनशील नगर में दंगा फैलाने की बड़ी साजिश भी हो सकती है।

मंदिर के प्रबंधक पूर्व सभासद ऋषिपाल कश्यप ने बताया कि यह मंदिर काफी पुराना है और राजेश्वर धीमान यहां सुबह-शाम पूजा कराते हैं। हिंदू जागरण मंच के नेता सुरेंद्र पाल सिंह एडवोकेट ने घटना के बाबत जो तहरीर दी है, उसमें कहा गया है कि गिरफ्तार युवक सादिक मंदिर के पिछवाड़े पठानपुरा मोहल्ले का निवासी है। उसे लोगों ने पकड़ लिया है। राहत खां (पुत्र इफ्तखार) व ताहिर लुहार मौके से फरार है।

पुलिस के मुताबिक सादिक ने हथौड़ा ताहिर लुहार से लिया था। ताहिर की दुकान मंदिर के पास ही है। खबर लिखे जाने तक एसपी देहात जगदीश शर्मा, सीओ योंगेद्र पाल सिंह आदि अधिकारी भीड़ को शांत करने में लगे थे। इस घटना के बाद पूरे जिले में सर्तकता बढ़ा दी गई है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.