ताज़ा खबर
 

जांच में फर्जी निकली महिला टीचर के साथ बलात्कार की कहानी, पुलिस ने प्रेमी को गिरफ्तार किया

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक महिला टीचर के साथ 'सामूहिक बलात्कार' का मामला जांच में फर्जी पाया गया है।
Author बरेली | August 4, 2016 02:41 am

उत्तर प्रदेश के बरेली में एक महिला टीचर के साथ ‘सामूहिक बलात्कार’ का मामला जांच में फर्जी पाया गया है। पुलिस का दावा है कि कथित पीड़ित ने खुद को ‘बचाने’ के लिए झूठी कहानी गढ़ी थी। बरेली के पुलिस उपमहानिरीक्षक आशुतोष कुमार ने बताया कि इस मामले में अमित राठौर नामक युवक की गिरफ्तारी के बाद कथित बलात्कार पीड़ित के सामने हुई पूछताछ से पता चला कि राठौर उसका प्रेमी है। दोनों शादी करना चाहते थे, लेकिन लड़की के परिवार के लोग इसके लिए राजी नहीं थे।

उन्होंने बताया कि पूछताछ में यह भी पता लगा है कि एक युवक ने टीचर को उसके प्रेमी के साथ आपत्तिजनक हालत में देखकर उसकी वीडियो क्लिपिंग बना ली थी। टीचर ने स्वीकार किया कि उसने झूठी कहानी इसलिए रची, क्योंकि उसे आशंका थी कि वह वीडियो उसके भाई और मां को दिखा दी जाएगी, तो सब कुछ जाहिर हो जाएगा।

कुमार ने बताया कि मुकदमे में टीचर के प्रेमी का नाम नहीं था। विवेचना के दौरान प्रेमी के बारे में पता लगने पर पुलिस ने उसे हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पूरे मामले का पटाक्षेप हो गया।

मालूम हो कि सीबीगंज थाना क्षेत्र में मंगलवार को एक शिक्षिका ने अपहरण और सामूहिक बलात्कार का आरोप लगाते हुए तीन अज्ञात लोगों पर मुकदमा दर्ज कराया था। उसका आरोप था कि मथुरापुर से आगे शिव ज्ञान डिग्री कॉलेज के पास कार से आए तीन लोगों ने उसे जबरन कार में डाल लिया और खेत में ले जाकर उससे सामूहिक बलात्कार किया. साथ ही उसका वीडियो बनाकर इंटरेट पर डालने की धमकी दी।

मामले के आरोपियों को पकड़ने और कठोर कार्रवाई की मांग को लेकर क्षेत्रीय जनता ने रास्ता जाम किया था और स्थानीय बीजेपी विधायक अरुण कुमार के नेतृत्व में थाने पर धरना दिया था। मामला तूल पकड़ने पर सीबीगंज के प्रभारी निरीक्षक राकेश सिंह को सस्पेंड कर दिया गया था।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग