ताज़ा खबर
 

कांग्रेस पर भड़के योगी, बोले- लोगों को लड़वाने के लिए मीरा कुमार को बनाया राष्ट्रपति उम्मीदवार, माया-लालू को भी नहीं बख्शा

राष्ट्रपति के लिए नामांकन करने के बाद बिहार के पूर्व राज्यपाल राम नाथ कोविंद ने स्पष्ट शब्दों में कहा, "राष्ट्रपति का पद दलगत राजनीति से ऊपर होना चाहिए।"
Author नई दिल्ली | June 23, 2017 15:41 pm
यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ। (Photo: PTI)

एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार राम नाथ कोविंद ने शुक्रवार को देश के प्रेसिडेंट पद के लिए नामांकन दाखिल किया। इस दौरान बीजेपी ने अपनी ताकत का एहसास कराया। कोविंद के नामांकन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी शामिल रहे। इसके अलावा करीब 20 राज्यों के मुख्यमंत्री और एनडीए के लगभग सभी बड़े नेता इस दौरान मौजूद रहे। इस मौके पर यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस पर मीरा कुमार को राष्ट्रपति उम्मीदवार के तौर पर उतारने को लेकर जमकर निशाना साधा। मीरा कुमार को मैदान में उतारने के बाद राष्ट्रपति पद की लड़ाई दलित बनाम दलित हो गई। योगी ने विपक्षी पार्टी पर हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस के लोगों को लड़वाने के लिए मीरा कुमार को उम्मीदवार बनाया है।

योगी आदित्य नाथ ने कहा, “कांग्रेस को मीरा कुमार को राष्ट्रपति बनाना ही था तो वह पिछली बार भी बना सकती थी। लेकिन नहीं, क्योंकि बीजेपी ने राम नाथ कोविंद का नाम आगे बढ़ाया इसलिए लोगों को लड़वाने के लिए कांग्रेस ने मीरा कुमार को चुना है। मीरा कुमार को 22 जून को विपक्षी पार्टियों की बैठक के बाद यूपीए का राष्ट्रपति उम्मीदवार बनाया गया है। मीरा कुमार पूर्व लोकसभा स्पीकर है और दलित नेता और देश के पूर्व उप- प्रधानमंत्री बाबू जगजीवन राम की बेटी हैं। योगी ने बीएसपी प्रमुख मायावती और आरजेडी सुप्रीमो लाल प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि इन दोनों नेताओं की हालत ‘खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे’ जैसी हो गई है।

नामांकन के बाद क्या बोले कोविंद?
राष्ट्रपति के लिए नामांकन करने के बाद बिहार के पूर्व राज्यपाल राम नाथ कोविंद ने स्पष्ट शब्दों में कहा, “राष्ट्रपति का पद दलगत राजनीति से ऊपर होना चाहिए।” उन्होंने कहा कि वह पद की पूरी गरिमा को बनाए रखेंगे और संविधान की सर्वोपरिता रखना हमारा धर्म है। कोविंद ने उनकी उम्मीदवारी का समर्थन करने वाले दलों का आभार व्यक्त किया। बीजेपी नेताओं का दावा है कि राम नाथ कोविंद भारी मतो को विजयी होंगे। वहीं, जानकारों का भी मानना है कि राम नाथ कोविंद की जीत लगभग पक्की मानी जा रही है। वोट प्रतिशत के आधार पर एनडीए, यूपीए पर भारी पड़ती दिख रही है। वहीं, नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू, टीआरएस, एआईएडीएमके और बीजू जनता दल ने भी कोविंद की उम्मीदवारी का समर्थन किया है।

रामनाथ कोविंद बने एनडीए के राष्ट्रपति उम्मीदवार

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. T
    Toto
    Jun 23, 2017 at 4:47 pm
    Logon ko ladwane me aapki party kuch kam hai kya yogi ji?
    Reply
    1. D
      Dev Verma
      Jun 23, 2017 at 7:22 pm
      Choron ko sub nazar aatey hein chor ! what a bloody tragedy in India people have brain but don't want to use it...bhed cahl mein chal rahey hein..
      Reply
    सबरंग