ताज़ा खबर
 

देश की दूसरी सबसे बड़ी डिफॉल्‍टर कंपनी के प्रमोटर ने पत्‍नी समेत छोड़ी भारतीय नागरिकता

Winsome Diamonds and Jewellery Ltd के प्रमोटर जतिन मेहता और उनकी पत्‍नी ने भारतीय नागरिकता त्‍याग दी है। कंपनी पर 6,800 करोड़ रुपए के बैंक लोन का गबन करने का आरोप है। 
Author मुंबई | June 2, 2016 08:25 am
जतिन मेहता और सोनिया मेहता ने 2013-14 में भारतीय नागरिकता छोड़ी थी। (Twitter)

जतिन मेहता और उनकी पत्‍नी सोनिया मेहता ने भारतीय नागरिकता त्‍याग कर एक कैरेबियाई देश सेंट किट्स एंड नेविस की नागरिकता ग्रहण कर ली है। कंपनी के कथित 6,800 करोड़ के बैंक लोन डिफॉल्‍ट की जांच कर रहे जांचकर्ताओं ने यह जानकारी दी है।

जांचकर्ताओं के अनुसार, जतिन मेहता और सोनिया मेहता ने 2013-14 में भारतीय नागरिकता छोड़ी थी। सेंट किट्स एंड नेविस मशहूर टैक्‍स हैवन है। जांच एजेंसियों के अनुसार, मेहता फिलहाल दुबई में रह रहा है।

Read more: विजय माल्‍या के विला में घुसे एसबीआई के 44 बाउंसर, स्‍टाफ को निकाल बाहर किया

Winsome Diamonds and Jewellery Ltd को भारतीय बैंकों ने देश के दूसरा सबसे बड़ा डिफॉल्‍टर बताया है। फिलहाल सीबीआई और प्रवर्तन निदेशालय (ED) कथित फ्रॉड की जांच कर रहा है। मंगलवार को ईडी ने प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्‍ट के तहत Winsome Diamonds और इसकी सहयोगी कंपनियों की करीब 172 करोड़ की प्रॉपटी सीज कर दी है।

जांच के बावजूद, बैंक्‍स Winsome Diamonds से वसूली करने में ज्‍यादा सफलता नहीं हासिल कर पाए हैं। क्‍योंकि भारत की सेंट किट्स एंड नेविस के साथ प्रत्‍यर्पण संधि नहीं है। सेंट किट्स एंड नेविस की आधिकारिक वेबसाइट के अनुसार, देश विदेशी निवेशकर्ताओं को बड़े निवेश (चाहे वह दान के तौर पर किया गया हो या रियल एस्‍टेट खरीदारी के जरिए) के बदले नागरिकता प्रदान करता है।

Read more: विजय माल्‍या बोले- गालियां देनी है तो मुझे दो पर मेरे बेटे सिद्धार्थ को बख्श दो

लॉ फर्म अदवाया लीगल के संस्‍थापक और मैनेजिंग पार्टनर रमेश वैद्यनाथन ने कहा, “ऐसे व्‍यक्ति का प्रत्‍यर्पण कर पाना लगभग नामुमकिन है जिसने भारतीय नागरिकता छोड़ कर ऐसे किसी देश की नागरिकता ले ली हो जिसके साथ भारत की प्रत्‍यर्पण संधि नहीं है।”

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. C
    Chandra Prakash
    Jun 2, 2016 at 1:24 pm
    Nothing concrete done against lalit Modi and Malaya ,people like them are getting encouraged to proceed in the same direction of swallowing country's money after siphoning enough money to enjoy rest of life lavishly without any enbrances. Govt should immediately find out methods to keep a tab on such individuals who are loosing money in industries/businesses after taking hefty loans from banks and who only are possible absconders without repaying bank loans.Govt must improve its intelligence.
    Reply
  2. R
    R.K. Pareek
    Jun 2, 2016 at 6:51 am
    Start up Stand up now RUN UP
    Reply
  3. R
    R.K. Pareek
    Jun 2, 2016 at 6:50 am
    Start up, Stand Up & now RUN UP.RKP UMH NEWS Guru gram
    Reply
  4. S
    Sidheswar Misra
    Jun 2, 2016 at 9:21 am
    जो लोग पूजीपतियों की दलाली करते है देखे इनका देश प्रेम कैसा होता .
    Reply
  5. V
    VIVEK
    Jun 1, 2016 at 7:58 pm
    After Vijay Mallya, Jatin Mehta looks to be the next one. There maybe many more in फ्यूचर हु विल बे फोर्सकिंग थे इंडियन सिटीजनशिप.It means Banks are putting the pressure on crony capitalists. थिस विल मेक थे इंडियन companies मोर ेफिेइंत.
    Reply
  6. Load More Comments
सबरंग