December 04, 2016

ताज़ा खबर

 

नोटबंदी: आखिर कहां गलती कर गए नरेंद्र मोदी,क्यों तुरंत खाली हो रहे हैं एटीएम और बढ़ रही लोगों की कतार,जानिए

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद से बैंकों के साथ-साथ एटीएम की भी भीड़ खत्म होने का नाम नहीं ले रही।

देशभर में कुल 2.20 लाख एटीएम हैं। (PTI Photo)

 

500 और 1000 के नोट बंद होने के बाद से बैंकों के साथ-साथ एटीएम की भी भीड़ खत्म होने का नाम नहीं ले रही। एटीएम का हाल तो यह है कि उनमें कब पैसा आता है और कब खत्म हो जाता है पता ही नहीं चलता। ज्यादातर लोग इस बात से ही परेशान हैं कि वे जब भी एटीएम पहुंचते हैं तो बंद होता है या फिर उसमें कैश ही नहीं होता। दरअसल ऐसा तकनीकी दिक्कतों की वजह से हो रहा है। ज्यादातर एटीएम में 3 से 4 दराज होती हैं जिन्हें कैसेट भी कहते हैं। उनमें 100, 500 और 1000 के नोट डाले जा सकते हैं। किसी-किसी एटीएम में ये दो भी हो सकती हैं। हर कैसेट में नोट के 22 पैकेट रखे जा सकते हैं। हर पैकेट में 100-100 नोट होते हैं। मशीन की प्रोग्रामिंग इस किस्म से की जाती है कि उसमें से कोई भी नोट निकाला जा सके। लेकिन अब 500 और 1000 के नोट बंद होने की वजह से मशीन में सिर्फ 100 के नोट डाले जा रहे हैं। ऐसे में अगर किसी को एक हजार रुपए चाहिए तो एटीएम उसे 100-100 के दस नोट देगा 500 या 1000 के नोट देने की बजाए। सभी कैसेट में अगर 100 के नोट रख दिए जाएं तो एटीएम में कुल 7.5 लाख रुपए रखा जा सकता है। वहीं जब 500 और 1000 के नोट चलते थे तब एक बार में 40 लाख रुपए तक रखे जा सकते थे।

एटीएम में 500 और 2000 के नए नोट फिलहाल डाले नहीं जा सकते क्योंकि किसी भी मशीन की कैसेट का आकार उनके हिसाब से नहीं है। ऐसा इसलिए है क्योंकि नए नोटों के साइज और पुराने नोटों के साइज में फर्क है। वित्त मंत्री अरुण जेटली ने भी एटीएम की इस समस्या का जिक्र किया। उन्होंने तीन हफ्ते के भीतर इससे निपटने का वादा भी किया। एटीएम की देखरेख के लिए बनी कंपनियों का कहना है कि नए नोट का विशेष विवरण उन लोगों के पास आ गया है और जल्द ही सारा काम निपटा लिया जाएगा।

एटीएम सुविधा का ख्याल रखने के लिए 40,000 लोग लगे हुए हैं। मशीनों में कैश डालने के लिए 8,800 वैन हैं। इन लोगों को देशभर के 650 जिलों में फैले 2.20 लाख एटीएम में पैसे डालने का काम करना होता है। वे लोग पुरानी करेंसी तो पहले ही निकाल चुके हैं लेकिन अभी 100-100 के नोट ही एटीएम में डाल पा रहे हैं। इस वक्त 50 प्रतिशत एटीएम काम भी नहीं कर पा रहे।

कई बैंकों के अधिकारियों में सरकार के इस कदम को लेकर थोड़ी नाराजगी भी दिखती है। एक बैंक के सीनियर अधिकारी ने नाम ना आने की शर्त पर कहा कि सरकार को इस बारे में बैंक के कर्मचारियों को पहले से जानकारी देनी चाहिए थी।

वीडियो: ऐसे दिखते हैं 500 के नए नोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 14, 2016 8:27 am

सबरंग