ताज़ा खबर
 

99 फीसद मतदान, 20 को नतीजा

नए राष्ट्रपति के चुनाव में सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का मुकाबला विपक्षी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की उम्मीदवार मीरा कुमार से है।
Author नई दिल्ली, | July 18, 2017 03:24 am
राष्ट्रपति चुनाव 2017: दिल्ली स्थित संसद भवन में वोट देते सांसद और विधायक।

देश के 14वें राष्ट्रपति के चुनाव के लिए सोमवार को संसद भवन और सभी राज्यों की विधानसभाओं में शाम पांच बजे मतदान पूरा हो गया। निर्वाचक मंडल के ज्यादातर सदस्यों ने वोट डाले। चुनाव आयोग के अनुसार, 99 फीसद मतदान हुआ। राष्ट्रपति चुनाव के वोटों की गिनती 20 जुलाई को होगी। उसी दिन नए राष्ट्रपति के नाम का ऐलान कर दिया जाएगा। मौजूदा राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का कार्यकाल 25 जुलाई को समाप्त हो रहा है। नए राष्ट्रपति के चुनाव में सत्ताधारी राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का मुकाबला विपक्षी संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (यूपीए) की उम्मीदवार मीरा कुमार से है। रामनाथ कोविंद का पलड़ा भारी माना जा रहा है। भाजपा उम्मीदवार को राजग से अलग भी कई दलों ने समर्थन देने की घोषणा की है और कुल मिलाकर उन्हें 63 फीसद वोट मिलने की उम्मीद है।

राष्ट्रपति चुनाव के लिए संसद और राज्यों की विधानसभाओं में कुल 32 मतदान केंद्र बनाए गए थे। संसद भवन के कमरा संख्या-62 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह, कांग्रेस अध्यक्ष बाकी पेज 8 पर सोनिया गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह समेत 714 सांसदों ने वोट डाले। राज्य विधानसभाओं से मतपेटियां दिल्ली लाई जाएंगी, जहां 20 जुलाई को मतों की गणना होगी। 20 जुलाई को ही चुनाव परिणाम घोषित कर दिए जाएंगे। चुनाव अधिकारी अनूप मिश्रा ने बताया कि राष्ट्रपति चुनाव में 99 फीसद मतदान हुआ। राष्ट्रपति चुनाव के इतिहास में यह अब तक हुई संभवत: सबसे ज्यादा वोटिंग है। सोमवार सुबह 10 बजे से मतदान शुरू हुआ। इस चुनाव में 776 सांसदों और 4,120 विधायकों को मत डालने का अधिकार था। निर्वाचक मंडल के कुल मतों की कीमत 10,98,903 है।

मुलायम खेमा कोविंद के साथ

समाजवादी पार्टी में अंतर्कलह जारी है राष्ट्रपति चुनाव में भी पार्टी बंटी नजर आई। पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधायक शिवपाल यादव ने मतदान के बाद बताया कि नेताजी (मुलायम सिंह यादव) के कहने पर रामनाथ कोविंद को वोट डाला। शिवपाल ने दावा किया कि सपा के अन्य विधायक और सांसद भी कोविंद के समर्थन में वोट डालेंगे। उन्होंने कहा, मीरा कुमार ने मुझसे समर्थन नहीं मांगा, जबकि रामनाथ कोविंद ने मुझसे वोट मांगा था। पार्टी ने राष्ट्रपति चुनाव के बारे में मुझसे कोई राय नहीं ली।’ सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव यूपीए उम्मीदवार मीरा कुमार को समर्थन दे रहे हैं। वहीं मुलायम सिंह और शिवपाल शुरू से ही कोविंद के समर्थन में रहे हैं।
आज बहुत ही महत्त्वपूर्ण दिन है। निर्वाचक मंडल को निर्णय लेना है और आप सभी यह जानते हैं कि विचारधारा की इस लड़ाई में मैं आपके साथ हूं। सामाजिक न्याय, सर्वसमावेशी धर्मनिरपेक्षता, अभिव्यक्ति व प्रेस की आजादी, गरीबी उन्मूलन, जाति व्यवस्था का समूल नाश ऐसी विचारधारा है जो भारत को बांधे रख सकती है। यह बहुत महत्त्वपूर्ण है कि हम इसकी सुरक्षा करें।
मीरा कुमार

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग