December 07, 2016

ताज़ा खबर

 

केंद्रीय मंत्री वीके सिंह बोले- सुसाइड करने वाले पूर्व फौजी की मानसिक स्थिति कैसी थी, होनी चाहिए जांच

एक पूर्व सैनिक ने ओआरओपी की मांग पूरी नहीं होने पर जहर खाकर सुसाइड कर लिया था।

Author नई दिल्ली | November 2, 2016 17:29 pm
विदेश राज्यमंत्री वीके सिंह। (फाइल फोटो)

केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने ओआरओपी की मांग लेकर सुसाइड करने वाले पूर्व सैनिक की मानसिक स्थिति पर सवाल उठाए हैं। सिंह ने कहा, ‘ओआरओपी को राजनीति से दूर रखना चाहिए, यह अच्छा रहेगा। राहुल गांधी को इस मुद्दे को राजनीतिक रंग नहीं देना चाहिए।सुसाइड के पीछे ओआरओपी को वजह बताया जा रहा है, जबकि यह पता नहीं कि उसकी मानसिक स्थिति क्या थी। इसकी जांच होनी चाहिए।’ बता दें, पूर्व सैनिक राम किशन ग्रेवाल ने ओआरओपी की मांग पूरी नहीं होने पर मंगलवार को दिल्ली में जहर खाकर सुसाइड कर लिया था। इसके बाद कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पूर्व सैनिक के परिजनों से मिलने राम मनोहर लोहिया अस्पताल गए। लेकिन राहुल गांधी को अस्पताल के अंदर नहीं जाने दिया गया। इसके बाद भी राहुल ने की बार अंदर जाने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने बाद में उन्हें हिरासत में ले लिया। राहुल गांधी को दो घंटे तक हिरासत में रखने के बाद पुलिस ने उन्हें छोड़ दिया।

वीडियो में देखें- पूर्व सैनिक ने ज़हर खाकर आत्महत्या की

राहुल गांधी से पहले दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया भी पूर्व सैनिक के परिजनों से मिलने गए थे। लेकिन पुलिस ने उन्हें भी अपनी हिरासत में ले लिया। मनीष सिसोदिया अभी भी पुलिस की हिरासत में हैं। दिल्ली के डिप्टी सीएम को हिरासत में लिए जाने के बाद सीएम केजरीवाल ने पीएम मोदी पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि यह पीएम मोदी की ‘गुंडागर्दी’ है। राहुल गांधी ने भी हिरासत में लिए जाने के बाद पीएम मोदी पर निशाना साधा था। उन्होंने कहा था कि यह पहली बार है कि किसी सैनिक के परिवार से हमें नहीं मिलने दिया जा रहा, यह पूरी तरह से अलोकतांत्रिक है।

इन सबके बाद दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पूर्व सैनिक के परिजनों से मिलने पहुंचे। लेकिन उन्हें भी नहीं मिलने दिया गया। केजरीवाल रिपोर्ट लिखने जाने तक अस्पताल के बाहर मिलने का इंतजार कर रहे थे। जब केजरीवाल को पूर्व सैनिक के परिजनों से नहीं मिलने दिया गया तो आम आदमी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने अस्पताल के बाहर धरने पर बैठकर प्रदर्शन शुरू कर दिया। बाद में पुलिस ने आम कार्यकर्ताओं को भी अपनी हिरासत में ले लिया।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 2, 2016 5:28 pm

सबरंग