December 05, 2016

ताज़ा खबर

 

नारायणसामी ने कहा: किरण बेदी के साथ कोई मतभेद नहीं, राहुल को अध्यक्ष बनाने का किया समर्थन

पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने राज्य की उपराज्यपाल किरण बेदी के साथ किसी तरह के मतभेदों से इनकार किया।

Author नई दिल्ली | October 23, 2016 14:05 pm
कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी (EXPRESS PHOTO)

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पुडुचेरी के मुख्यमंत्री वी नारायणसामी ने राज्य की उपराज्यपाल किरण बेदी के साथ किसी तरह के मतभेदों की खबरों को सिरे से खारिज करते हुए कहा कि वे दोनों संविधान के तहत काम कर रहे हैं और मतभेद जैसी कोई बात नहीं है। नारायणसामी ने साथ ही राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाए जाने की बात का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि राहुल पार्टी को मजबूत बनाने के लिए काफी प्रयास कर रहे हैं। नारायणसामी ने एक साक्षात्कार में कहा, ‘उपराज्यपाल किरण बेदी के साथ उनके कोई मतभेद नहीं हैं। कानून और संविधान में उपराज्यपाल और मंत्रिमंडल के अधिकार की स्पष्ट व्याख्या है। हम सभी संविधान के तहत काम कर रहे हैं और हमारे बीच कोई मतभेद नहीं है।’

यह पूछे जाने पर कि क्या राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाये जाने का समय आ गया है, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘पार्टी को मजबूत बनाने के लिए हमारी अध्यक्ष सोनिया गांधी ने काफी काम किया है और जहां तक राहुल गांधी को अध्यक्ष बनाये जाने का सवाल है, अगर ऐसा कोई प्रस्ताव आयेगा तो वह इसका समर्थन करेंगे। उन्हें पार्टी अध्यक्ष बनना चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘सोनियाजी हम सब की गार्जियन हैं और हमेशा रहेंगी।’

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी देश में और प्रदेशों में कांग्रेस को मजबूत बनाने के लिए पूरा प्रयास कर रहे हैं। हाल ही में उन्होंने उत्तारप्रदेश के विभिन्न हिस्सों का दौरा किया था और अन्य राज्यों में भी लगातार लोगों से मिल रहे हैं। सीमा पार पाक के कब्जे वाले कश्मीर में सेना के लक्षित हमले (सर्जिकल स्ट्राइक) के बारे में एक प्रश्न के उत्तर में पुडुचेरी के मुख्यमंत्री ने कहा कि हाल ही में जो लक्षित हमला मोदी सरकार के तहत किया गया है, वह पहला ऐसा हमला नहीं है। ऐसा पहले भी कई बार हो चुका है। इस तरह के विषय पर राजनीति करना ठीक नहीं है। ‘लक्षित हमले (सर्जिकल स्ट्राइक) कांग्रेस नीत संप्रग सरकार के दौरान भी हुए थे।’

नारायणसामी ने कहा, ‘लक्षित हमला पहली बार नहीं हुआ है। लक्षित हमले का मोदी सरकार प्रचार कर रही है, इस पर राजनीति कर रही है।’ पुडुचेरी के मुख्यमंत्री ने कहा कि देश की सुरक्षा सुनिश्चित करना केंद्र सरकार का काम है। इस पर राजनीति करना ठीक बात नहीं है। राजनीतिक लाभ के लिए इस तरह की बात ठीक नहीं है।  वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के बारे में सवाल के जवाब में नारायणसामी ने कहा कि जीएसटी को राज्य के विधानसभा में मंजूरी दे दी गई है। जीएसटी परिषद की कुछ बैठकें हो चुकी हैं और इनमें विभिन्न विषयों पर चर्चा हुई है। उन्होंने कहा कि पुडुचेरी अधिक राजस्व अर्जित करने वाला राज्य रहा है और जीएसटी के कारण ऐसे अधिक राजस्व अर्जित करने वाले राज्यों को 5 वर्षो तक मुआवजा देने की व्यवस्था बनाई गई है। ’जीएसटी को लेकर हमें कोई तकलीफ नहीं है।’

पुडुचेरी के विकास के रोडमैप के बारे में पूछे जाने पर राज्य के मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के विकास के संदर्भ में सबसे महत्वपूर्ण पहल कानून एवं व्यवस्था की स्थिति को ठीक करने पर हो रही है। साथ ही हमने प्रदेश में अधिक उद्योगों को लाने के लिए ‘नयी औद्योगिक नीति’ लागू की है। हम कृषि के विकास के लिए जैविक खेती (आर्गेनिक फार्मिंग) को बढ़ावा दे रहे हैं। नारायणसामी ने कहा कि इसके साथ ही हम विभिन्न योजनाओं को लागू करते समय पारदर्शिता बढ़ाने पर जोर दे रहे हैं ताकि कार्य कुशलता बढ़ायी जा सके। उन्होंने कहा कि राज्य में स्वास्थ्य सेवा को बेहतर बनाने के लिए हमारी सरकार ने कई पहल की है जिसमें डॉक्टरों की सांध्यकालीन सेवा को बढ़ावा देना और गांव में डाक्टरों की व्यवस्था करना शामिल है। मेडिकल कॉलेजों में दाखिले के लिए नीट परीक्षा की तैयारी के लिए हमने छात्रों की कोचिंग की व्यवस्था की है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा, ‘हमने प्रधानमंत्री स्वच्छ भारत योजना को पूरी तरह से लागू किया है।’ पुडुचेरी में पर्यटन को बढ़ावा देने की अपनी सरकार की पहल का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि राज्य में तीन तरह के पर्यटन क्षेत्र हैं जिसमें मंदिर पर्यटन, धरोहर शहर पर्यटन और प्र्राकृतिक पर्यटन शामिल है। देश और विदेश से लोग प्रदेश के प्राचीन मंदिरों, फ्रांस की कलाकृतियों और समु्रद पर्यटन क्षेत्रों का आनंद उठाने के लिए आ रहे हैं। राज्य में पर्यटन बढ़ रहा है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 23, 2016 2:05 pm

सबरंग