ताज़ा खबर
 

आज शौचालय की लोकेशन बताने वाला गूगल ऐप लॉन्च करेंगे वेंकैया नायडू

इसमें टॉयलेट सफाई की रेटिंग, टॉयलेट का प्रकार (वेस्टर्न या इंडियन), इसकी फीस (मुफ्त या चार्ज) जैसे अतिरिक्त फीचर भी जोड़े जाएंगे।
सांकेतिक तस्वीर

करीब एक साल पहले पंजाब के IAS ऑफिसर विपुल उज्जवल ने शहरी विकास मंत्रालय को स्वच्छ भारत टॉयलेट लोकेटर ऐप का आइडिया दिया था। इसके बाद से ही शहरी विकास मंत्रालय लोगों को साफ टॉयलेट उपलब्ध कराने के मिशन पर जुटा गया था। इसी कवायद के तहत गुरुवार को केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू शौचालय की लोकेशन बताने वाला गूगल ऐप लॉन्च करने जा रहे हैं। इस ऐप के जरिए आप आसपास मौजूद टॉयलेट की लोकेशन देखी जा सकेगी और पता लगाया जा सकेगा कि यह कितनी दूरी पर स्थित है।

चूंकि ऐप के लिए अभी तक सिर्फ 2 लाख टॉयलेट की लोकेशन का डेटा ही इक्ट्ठा हो पाया है, इसलिए मंत्रालय ने इसे अभी पब्लिक के लिए लॉन्च नहीं करना का सोचा है। अभी यह ऐप गूगल मैप की सहायता से प्राइवेट बिल्डिंग में स्थित पब्लिक टॉयलेट का भी डेटा एकत्र करेगी। ऐप की लॉन्चिंग के बाद इसमें सफाई की रेटिंग, टॉयलेट का प्रकार (वेस्टर्न या इंडियन), इसकी फीस (मुफ्त या चार्ज) जैसे अतिरिक्त फीचर भी होंगे। फिलहाल के लिए इस ऐप में सिर्फ इलाके में स्थित टॉयलेट की लोकेशन ही पता लग पाएगी। वर्तमान के लिए यह सुविधा दिल्ली-एनसीआर और मध्य प्रदेश के लिए ही होगी, लेकिन जल्द ही इसे अन्य राज्यों में भी शुरू कर दिया जाएगा।

शहरी विकास मंत्रालय के संयुक्त सचिव एवं स्वच्छ भारत मिशन (शहरी) के निदेशक प्रवीण प्रकाश ने कहा कि लोगों को साफ टॉयलेट उपलब्ध कराने के लिए विभाग तेजी से काम कर रहा है। शॉपिंग मॉल, बाजार आदि जगहों पर मौजूद साफ टॉयलेट भी फोन पर मिल सकेंगे। उन्होंने कहा कि शुरुआत में दिल्ली-एनसीआर और मध्य प्रदेश में यह प्रोजेक्ट शुरू किया गया है। मंत्रालय का प्लान देशभर में यह सुविधा देने की है।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग