December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

अमेठी के कार्यक्रम में ना पहुंचने पर तीन केंद्रीय मंत्रियों का राहुल गांधी पर निशाना- क्या वह हमसे भी ज्यादा बिजी हैं ?

लोकल सांसद के पास वहां के लोगों के लिए वक्त नहीं है यह कहकर केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष और अमेठी के सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधा।

Author October 23, 2016 08:44 am
अमेठी के कार्यक्रम में प्रकाश जावड़ेकर, स्मृति ईरानी और धर्मेंद्र प्रधान। (Source: Express photo by Pramod Adhikari)

लोकल सांसद के पास वहां के लोगों के लिए वक्त नहीं है यह कहकर केंद्रीय कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष और अमेठी के सांसद राहुल गांधी पर निशाना साधा। अमेठी में हुए इस कार्यक्रम में स्मृति ईरानी के साथ मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर और पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान भी मौजूद थे। तीनों ने कहा कि राहुल के पास केंद्र सरकार द्वारा करवाए गए कार्यक्रम में आने का वक्त नहीं था। दरअसल, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने राजीव गांधी इंस्टिट्यूट ऑफ पेट्रोलियम टेक्नॉलोजी (RGIPT) के पर्मानेंट कैंपस के बनने पर रखे गए कार्यक्रम के लिए राहुल गांधी को न्योता भेजा था लेकिन राहुल गांधी ने यह कहकर आने से मना कर दिया कि अगर कार्यक्रम किसी सुविधाजनक दिन पर रखा जाता तो वह जरूर आते। राहुल ने लिखे गए पत्र में यह भी बताया कि उस प्रोजेक्ट की शुरुआत यूपीए ने की थी। प्रधान ने इस मौके पर कहा, ‘मैं चाहता था कि यहां के सांसद भी इस मौके पर यहां हो लेकिन उन्होंने मुझे पत्र भेजकर कहा कि वह बिजी हैं। हम राजनीति नहीं करना चाहते। हमें गर्व है कि इस इंस्टिट्यूट का नाम राजीव गांधी के नाम पर रखा गया है। आखिरकार वे हमारे प्रधानमंत्री रहे हैं।’

वीडियो: रीता बहुगुणा जोशी हुई बीजेपी में शामिल; कहा- ‘राहुल गांधी किसी की बात नहीं सुनते’

वहीं स्मृति इरानी ने भी राहुल गांधी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, ‘वह यूपी में खाट सभा कर रहे हैं लेकिन अमेठी नहीं आए। यहां उनकी खटिया खड़ी हो जाएगी।’ कार्यक्रम में प्रधान ने यह भी बताया कि प्रोजेक्ट 2008 में कांग्रेस के वक्त में शुरू हुआ था लेकिन प्रोजेक्ट के लिए पैसा काफी कम दिया गया था। प्रधान के मुताबिक, स्मृति के अनुरोध के बाद राशि को बढ़ाया गया। प्रधान ने आगे कहा, ‘हमें लगता है कि राहुल गांधी बड़े घर के लड़के हैं। वह आते तो अच्छा रहता लेकिन उनके पास वक्त नहीं है। स्मृति ईरानी यहां से चुनाव हारने के बाद भी आ गईं। लेकिन राहुल जीतने के बाद भी नहीं आए।’

Read Also: नेहरू-गांधी परिवार ने की जनता से वादाखिलाफी, इसीलिए अमेठी में कम हुआ राहुल गांधी का वोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on October 23, 2016 8:44 am

सबरंग