ताज़ा खबर
 

बजट 2017: अरुण जेटली ने इनकम टैक्स छूट की सीमा 5 लाख करने के गिनाए थे ये फायदे

Union Budget 2017: जेटली ने कहा था, "प्रत्यक्ष कर को कम किया जाना चाहिए। अगर आय कर छूट की सीमा 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख की जाती है तो देश के 3 करोड़ लोग करीब 24 करोड़ रुपये की बचत कर सकेंगे।
Union Budget 2017 Live Updates: अरुण जेटली बजट बैग के साथ।

साल 2014 के लोकसभा चुनावों के वक्त भाजपा उम्मीदवार और आज के वित्त मंत्री बनने अरुण जेटली ने कहा था कि देश में इनकम टैक्स छूट की सीमा 5 लाख रुपये तक होनी चाहिए। उन्होंने दावा किया था कि इससे लाखों लोगों को फायदा होगा। अमृतसर में अपने चुनाव प्रचार के दौरान जेटली ने कहा था, “प्रत्यक्ष कर को कम किया जाना चाहिए। अगर आय कर छूट की सीमा 2 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख की जाती है तो देश के 3 करोड़ लोग करीब 24 करोड़ रुपये की बचत कर सकेंगे। इससे नेशनल टैक्स फंड पर 1 से 1.5 फीसदी का प्रभाव पड़ेगा।”

जेटली ने कहा था कि आयकर में छूट मिलने से बचाई गई रकम यानी 24 करोड़ रुपये से देशवासियों की खरीद शक्ति बढ़ेगी। इसका असर वैट पर भी पड़ेगा। उन्होंने उम्मीद जताई थी कि आमजनों की क्रय शक्ति बढ़ने से वैट और उत्पाद शुल्क में बढ़ोत्तरी होगी इससे सरकारी खजाने को फायदा पहुंचेगा।

इसके साथ ही जेटली ने दावा किया था कि अटल बिहारी वाजपेयी सरकार ने ब्याज दर 7 से 8 फीसदी रखा था जिसे कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए सरकार ने 13 से 14 फीसदी तक पहुंचा दिया। उन्होंने कहा था कि इसी वजह से व्यापार और उद्योग जगत घाटे में है और लगातार उनका उत्पादन घट रहा है और वो कीमती हो रहे हैं। जेटली ने ये भी कहा था कि इसी वजह से चीन और थाईलैंड जैसे देश भारत से आगे निकल रहे हैं।

बजट 2017: अरुण जेटली ने पेश किया बजट, जानिए बजट की मुख्य बातें

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग