ताज़ा खबर
 

Under-19 World Cup: फाइनल से पहले तक अजेय रही टीम इंडिया वेस्‍टइंडीज से कैसे हार गई, पढ़ें 5 कारण

मीरपुर में खेले गए मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को बेहद खराब शुरुआत मिली। इसके बाद सिर्फ सरफराज खान ही संघर्ष करते दिखे, जबकि बाकी बल्‍लेबाज क्रीज पर नहीं टिक पाए।
बांग्‍लादेश में खेले गए फाइनल में वेस्‍टइंडीज ने भारत को 5 विकेट से हरा दिया।

राहुल द्रविड़ की कोचिंग में भारत की जूनियर टीम ने अंडर-19 वर्ल्ड कप में शानदार खेल दिखाया। फाइनल में पहुंचने से पहले टूर्नामेंट में अजेय रहते हुए टीम ने खिताबी जीत का चौका लगाने की उम्मीद जगा दी थी, लेकिन निर्णायक जंग में टीम लड़खड़ा गई। आइए जानते हैं वो 5 अहम कारण रहे, जिनके चलते मिली फाइनल में हार

पहला कारण: मीरपुर में खेले गए मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम को बेहद खराब शुरुआत मिली। रिषभ पंत और कप्तान इशान किशन पर जिम्मेदारी थी कि यह जोड़ी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाई लेकिन पहले ही ओवर की चौथी गेंद पर यह जोड़ी टूट गई। पंत एक रन पर आउट हो गए।

दूसरा कारण: महज एक रन पर भारत की ओपनिंग जोड़ी टूटने के बाद शीर्ष क्रम के अन्य बल्लेबाजों का काम था कि वो टीम को इस संकट से बाहर निकालें लेकिन वो भी नाकाम रहे। भारत के 3 विकेट 37 रन कप्तान इशान किशन (4), अनमोलप्रीत सिंह (3) और वाशिंगटन सुंदर (7) पर आउट हो गए। भारत के 5 विकेट 50 रन पर गिर गए।

तीसरा कारण: शीर्ष क्रम की नाकामी के बाद भारत को मध्य क्रम के बल्लेबाजों से आस थी कि वे टीम को संकट से बाहर ले जाएंगे लेकिन सरफराज खान (51) को छोड़कर अन्य बल्लेबाज नाकाम रहे। अरमान जाफर (5), महिपाल लोरमार (19), मयंक डागर (8) और राहुल बाथम (21) भी फेल हो गए। मैच में भारत के 8 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर सके।

चौथा कारण: बल्लेबाजों के नाकामी के बाद भारतीय गेंदबाजों ने 146 रनों के लक्ष्य के बचाव के लिए काफी मेहनत की और मैच को अंतिम ओवर तक ले गए। लेकिन क्षेत्ररक्षकों के कुछ मौके गंवाने से भी मैच पक्ष में नहीं आया। सरफराज खान ने 35वें ओवर (मयंक डागर) में कीमो पॉल का कैच छोड़ दिया जिसने छठे विकेट के लिए 69 रनों की अविजित साझेदारी कर भारत की जीत की उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

पांचवां कारण: भारत को जब अंतिम 12 गेंदों में 9 रनों की दरकार थी तो 49वें ओवर में महिपाल लोरमार की पहली ही गेंद पर कीमो पॉल का आसान कैच आविश खान ने छोड़ दिया। अगर यह कैच हो जाता तो क्रीज पर एक नया बल्लेबाज आता जो पुछल्ला बल्लेबाज होता और इस नाजुक समय में उस पर खासा दबाव बनाना आसान होता।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.