ताज़ा खबर
 

सैनिकों को घटिया सामान देने का आरोप लगा कर UN ने रोक लिया 338 करोड़ का भुगतान

युनाइटेड नेशन (UN) की तरफ से भारत का 338 करोड़ रुपए का भुगतान रोक दिया गया है। यूएन की तरफ के आरोप लगाया गया है कि भारत ने जवानों को घटिया सामान दिया गया है।
Author September 21, 2016 08:16 am
इस साल के अगस्त तक भारत के 2,300 जवान सुडान के मिशन पर हैं और 3,400 जवान कांगो के मिशन पर।

युनाइटेड नेशन (UN) की तरफ से भारत का 338 करोड़ रुपए का भुगतान रोक दिया गया है। यूएन की तरफ के आरोप लगाया गया है कि भारत ने जवानों को घटिया सामान दिया गया है। यह बात उन जवानों के लिए की गई है जो इस वक्त कांगो और सुडान में शांति बहाल करने के मिशन पर भेजे गए हैं। भारत को इस बात की जानकारी पिछले महीने ही मिली है। इंडियन एक्सप्रेस को जानकारी मिली है कि यूएन ने 50.45 मिलियन डॉलर का फंड रोक लिया है। मिली जानकारी के मुताबिक, यूएन ने कहा कि सेना को भेजे गए हथियार और बाकी सामान उस दर्जे के नहीं थे जैसा कि उन्हें होना चाहिए था। यूएन ने भारत को बताया कि सेना को भेजा गया कोई भी सामान समझौता ज्ञापन (MoU) के हिसाब से नहीं था। यूएन ने हथियारों को ‘बेकार’ और ‘किसी काम के लायक नहीं’ बताया था।

इस साल के अगस्त तक भारत के 2,300 जवान सुडान के मिशन पर हैं और 3,400 जवान कांगो के मिशन पर। मिली जानकारी के मुताबिक, मार्च 2014 से अप्रैल 2016 के बीच यूएन ने 35.39 मिलियन डॉलर (237.1 करोड़) की कटौती की। वहीं सुडान मिशन के लिए मई 2014 से फरवरी 2016 के बीच 15.05 मिलियन डॉलर यानी 100.8 करोड़ रुपए की कटौती की गई।

इस मामले पर यूएन की जनरल एसेंबली की तरफ से 2013 में कहा भी गया था कि अगर सैनिक ठीक सामान के साथ मिशन पर नहीं होगा तो वह शांति बहाली का काम कैसे कर पाएगा।

Read Also: ISIS की थी सेक्स गुलाम, अब है मानव तस्करी के खिलाफ यूएन की सद्भावना राजदूत

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. Ranbir Sethi
    Sep 22, 2016 at 7:32 am
    Some law maker must raise this issue in the Indian Parliament. The political cl has no shame and take advantage of the fact that the Armed Forces cannot communicate their dismay to the Government.
    (1)(0)
    Reply
    1. Rkd Goel
      Sep 22, 2016 at 11:56 am
      Your Memories on FacebookDrrkd, we care about you and the memories you share here. We thought you'd like to look back on this post from 1 year ago.Drrkd GoelSeptember 21, 2015 �=======================================FORUM OF WHISTLE BLOWERS OF INDIAPresident.Dr.R.K.D.GoelPh: 2647677 Ph: 2357273 Ph: 2654710 Ph: 2640547 Ph: 2656688 Ph: 2638797ADDRESS: 1414-A, Akashdeep soc. B/H Akashwani, Makarpura Road, VADODARA -390 009Phone: 2647677: E-mail: d
      (1)(0)
      Reply
      1. R
        R S
        Sep 22, 2016 at 3:30 pm
        इस बार जवानों स्टिक के तम्बू देकर आतंकवादियों की मदद की गई.
        (0)(0)
        Reply
        1. R
          R S
          Sep 22, 2016 at 3:32 pm
          इस बार जवानों को प्लास्टिक के तम्बू देकर आतंकवादियों की मदद की गई
          (1)(0)
          Reply
          1. R
            R S
            Sep 22, 2016 at 2:46 pm
            कहीं किसी पब्लिक फोरम पर शिकायत पढी थी की UN हर जवान और officer को 1000 डॉलर प्रतिमाह के हिसाब से देता है लेकिन हर भारतीय जवान को मात्र 400 डॉलर और कमीशंड ऑफिसर्स को 1600 डॉलर मिलते हैं. यह भी जांच का विषय है.
            (1)(0)
            Reply
            1. S
              sanam
              Sep 22, 2016 at 4:42 pm
              अमेरिका जाने गोल्डेन चान्स हात बाट नजना दिनु होस् ! आजै मौकाको फाइदा उठायुनु होस्! तल दिएको लिंक क्लिक गर्नुहोस् ! अल द बेस्ट.......
              (0)(0)
              Reply
              1. Load More Comments