ताज़ा खबर
 

दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई सफर में अब लगेगा कम समय

रेलवे ने हाल ही मेंं दिल्ली और आगरा के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली गतिमान एक्सप्रेस शुरू की है।
Author नई दिल्ली | November 7, 2016 03:40 am
रेलवे ने यह फैसला गतिमान एक्‍सप्रेस की सफलता के बाद किया है।

गतिमान एक्सप्रेस की सफल शुरुआत के बाद रेलवे ने दिल्ली-हावड़ा और दिल्ली-मुंबई रूटों पर यात्रा की अवधि कम करने की दिशा में बहुत बड़ा कदम उठाते हुए इन रूटों पर ट्रेनों की रफ्तार बढ़ा कर 160 किलोमीटर प्रति घंटा करने की याजना बनाई है जिसकी अनुमानित लागत लगभग दस हजार करोड़ रुपए बताई जा रही है। इस परियोजना में शामिल रेलवे मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया, ‘मिशन रफ्तार योजना के तहत देश भर में कुल 9000 किलोमीटर की प्रमुख रूटों पर चलने वाली ट्रेनों की रफ्तार को 160 किलोमीटर प्रति घंटा करने की दिशा में हमलोगों ने एक विस्तृत कार्ययोजना तैयार किया है।

हमलोग इसकी शुरुआत दिल्ली-मुंबई और दिल्ली-हावरा जैसी दो अत्यंत व्यस्त रूटों पर काम करने के साथ की है।’ रेलवे ने हाल ही मेंं दिल्ली और आगरा के बीच 160 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से चलने वाली गतिमान एक्सप्रेस शुरू की है।वर्तमान में दिल्ली-हावड़ा रूट पर प्रतिदिन लगभग 120 यात्री ट्रेनें और 100 के करीब मालगाड़ियां चलती है, कुछ इसी तरह 90 यात्री ट्रेन और इतनी ही मालगाड़ियां रोजाना दिल्ली-मुंबई कॉरिडोर में भी चलती है।

रेलवे बजट से जुड़े पांच रोचक तथ्य

अधिकारी ने बताया, ‘एक बार इन दो प्रमुख रूटों पर ट्रेन की रफ्तार बढ़ा कर 160 किलोमीटर प्रति घंटा कर दिया गया, तो उसके बाद इन क्षेत्रों में और अधिक यात्री ट्रेनों की शुरुआत करने की गुंजाइश होगी। इसके फलस्वरूप कुछ लोकप्रिय ट्रेनों में यात्रियों की प्रतीक्षा सूची कम हो जाएगी और इसी तरह की सुविधाएं वाली कई अन्य सेवाओं की भी पेशकश की जाएगी।’इसमें रेलवे को आने वाली खर्चे के बारे में अधिकारी का कहना है कि इसकी गणना की जा रही है लेकिन संभवत: इन दो क्षेत्रों में इसकी लागत दस हजार करोड़ रुपए के करीब होगी। इस मिशन में इन दो कॉरिडोरों के साथ देश के सभी जोन शामिल है और इस दिशा में काम जारी है।अभी वर्तमान में इन दो व्यस्त रूट पर राजधानी और शताब्दी ट्रेनों समेत मेल और एक्सप्रेस ट्रेनों की रफ्तार 130 किलोमीटर प्रति घंटा हो सकती है। अधिकारी ने बताया कि न सिर्फ यात्री ट्रेनें बल्कि मालगाड़ियां भी मिशन रफ्तार योजना से लाभान्वित होगी।

 

 

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.