December 03, 2016

ताज़ा खबर

 

इन पांच तरीकों से पुराने नोट ठिकाने लगा रहे हैं लोग

मोदी सरकार के फैसले के बाद देश की 86 प्रतिशत करेंसी इस वक्त 'कागज के टुकड़े' के बराबर होती दिख रही है।

फोटो का इस्तेमाल प्रतिकात्मक तौर पर किया गया है।

मोदी सरकार के फैसले के बाद देश की 86 प्रतिशत करेंसी इस वक्त ‘कागज के टुकड़े’ के बराबर होती दिख रही है। लोगों के पास पैसा तो है लेकिन वह चल नहीं रहा। ऐसे में पैसे होते हुए भी लोग खाली हाथ नजर आने लगे हैं। लेकिन भारतीय लोग हर चीज में कुछ ना कुछ जुगाड़ चलाने के लिए जाने जाते हैं। ऐसे में पुराने नोटों को फिलहाल चलाने के तरीके भी निकाल लिए गए हैं। जानिए ऐसे ही तरीकों के बारे में –

1. सोने की खरीददारी: लोग अपने पुराने पैसे को गोल्ड के द्वारा सुरक्षित करने की कोशिश में लगे हैं। ऐसे में लोग सुनार की दुकान पर जाकर पुराने नोटों से गहने बनवा रहे हैं। सुनारों पर आरोप है कि वह पुराने दिन की रसीद (नियम ना लागू होने से पहले के दिन) बनाकर लोगों को माल बेच रहे हैं। इनकम टैक्स वालों ने देशभर की कई दुकानों पर छापा भी मारा था। लेकिन फिर भी यह काम जोरों-शोरों पर है। इस वजह से सोने की कीमत में भी 4 से 5 हजार रुपए की बढ़ोतरी हो गई। 2 लाख से कम की लेन-देन या खरीददारी पर पेन कार्ड भी दिखाना जरूरी नहीं होता।

वीडियो: 500, 1000 के नोट बदलवाने जा रहे हैं? रखें इन बातों का ध्यान

2. गरीबी रेखा से नीचे और जन धन योजना का खाता इस्तेमाल करना शुरू: लोगों ने गरीबी रेखा से नीचे वालों या अपना ही जनधन खाता इस्तेमाल करना शुरू कर दिया है। 2.5 लाख से कम जमा करवाने पर कोई जांच नहीं होती।

3. केंद्रीय भंडार पर एडवांस पेमेंट: सरकार द्वारा कहा गया है कि केंद्रीय भंडार पर फिलहाल पुराने 500-1000 के नोट चलेंगे। ऐसे में लोग केंद्रीय भंडार पर पहुंचकर जान-पहचान निकालकर एडवांस पेमेंट कर रहे हैं और सामान जरूरत पड़ने पर ले लेते हैं।

4. कमीशन पर पैसे बदलना: जिन लोगों के पास 500-1000 के नोट हैं वह कमीशनखोरों से 500 से बदले 400 या 450 रुपए ले रहे हैं। यह गोरखधंधा गैरकानूनी तरीके से खूब चलन में है।

5. ट्रेन में एडवांस रिजर्वेशन: लोग तीन चार महीने की एडवांस रिजर्वेशन (एसी) की सीट बुक करवा रहे हैं। ज्यादातर का प्लान था कि बाद में उन्हें कैंसल करवाकर पैसे रिफंड में ले लिया जाएगा। यह मामला रेलवे के संज्ञान में आ गया है।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने देश के सभी अस्पतालों, पेट्रोल पंपों, रेलवे स्टेशनों और हवाई अड्डों पर 500 और 1000 के पुराने नोट चलने की समय सीमा बढ़ाकर 14 नवंबर कर दी है। इसके अलावा देश के सभी टोल पर 14 नवंबर तक कोई टैक्स भी नहीं लिया जाएगा। बिजली और पानी के बिल जैसे केंद्र सरकार, राज्य सरकार द्वारा लिए जाने वाले सभी बिलों का भुगतान 14 नवंबर तक 500 और 1000 के पुराने नोटों से किया जा सकता है। गौतलब है कि इससे पहले आठ नवंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1000 के पुराने नोट बंद किए जाने की घोषणा की थी। हालांकि बैंकों और एटीएम के सामने पिछले दो दिन से लंबी कतारें हैं। बैंकों और एटीएम में नगद की कमी की शिकायतें लगातार आ रही हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 12, 2016 2:14 pm

सबरंग