December 10, 2016

ताज़ा खबर

 

31 दिसंबर तक कितनी भी बार निकालें एटीएम से पैसा, नहीं लगेगी फीस

गुरुवार से सभी बैंकों में 500 और 1000 के पुराने नोट बदले जा रहे हैं। 24 नवंबर तक बैंकों में एक दिन में केवल चार हजार रुपये बदले जा सकते हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के 500 और 1000 रुपये के नोटों को बंद करने के बाद एटीएमों पर भीड़ है।

मंगलवार (आठ नवंबर) से 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट का चलन बंद किए जाने के बाद लोगों को हो रही मुश्किल आसान करने के लिए सभी बैंकों ने कई कदम उठाए हैं। देश के सबसे बड़े निजी बैंक आईसीआईसीआई ने अपने ग्राहकों से 31 दिसंबर, 2016 तक डिपॉजिट व एटीएम ट्रांजैक्‍शन से जुड़ी फीस नहीं वसूलने का फैसला किया है। बैंक ने ग्राहकों को एसएमएस के जरिए इसकी जानकारी दी है और वेबसाइट पर भी इस बारे में घोषणा की है। कुछ और बैंकों ने भी एटीएम ट्रांजैक्‍शन फीस नहीं वसूलने का फैसला किया है। फिलहाल एक महीने में पांच एटीएम ट्रांजैक्‍शन ही मुफ्त है। लगभग सभी प्रमुख बैंकों ने नोटों बदलन के लिए अतिरिक्त काउंटल खोलने की भी घोषणा की है। आईसीआईसीआई बैंक ने जनता अपने ग्राहकों की क्रेडिट कार्ड की लिमिट में 20 प्रतिशत इजाफा करने और डेबिट कार्ड के दैनिक खरीदारी की सीमा दोगुना करने का फैसला किया है।

लोगों को पुराने नोट बदलने में होने वाली दिक्कतों को देखते हुए रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया (आरबीआई) ने देश के सभी बैंकों को रविवार और शनिवार को खुले रखने का आदेश दिया है। जनता की सुविधा के लिए विभिन्न बैंकों ने अपने कामकाज का समय दो-तीन घंटा बढ़ा दिया है। गुरुवार से ही आम जनता एटीएम से भी पैसे निकाल सकेगी। कई प्रमुख बैंकों ने कहा है कि पुराने नोट जमा करने या एटीएम से पैसा निकालने का शुल्क नहीं लेंगे। केनरा बैंक ने कहा है कि उसकी सभी शाखाएं अगले कुछ दिनों तक रोज दो घंटे अधिक काम करेंगी। आईसीआईसीआई बैंक ने घोषणा की है कि उनके ब्रांच गुरुवार और शुक्रवार को सुबह आठ बजे से रात आठ बजे तक खुले रहेंगे। देश के सबसे अधिक शाखाओं वाले स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की भी शाखाएं शाम छह बजे तक खुली रहेंगे।

वीडियोः देखिए पुराने नोट बदलकर किस तरह लोगों ने पाए नए नोट-

केंद्र सरकार ने 10 नवंबर से 500 और 1000 के पुराने नोट बदलने और एटीएम से पैसे निकालने पर कुछ पाबंदियां लगा रखी हैं। 24 नवंबर तक बैंकों और डाकघरों में एक दिन में केवल चार हजार रुपये बदले जा सकेंगे। हालांकि उपभोक्ता अपने बैंक या डाकघर खातों में जितनी चाहे उतनी राशि के 500 और 1000 के पुराने नोट जमा करा सकते हैं। 18 नवंबर तक एटीएम से एक दिन में केवल दो हजार रुपये निकाले जा सकेंगे। वहीं19 नवंबर के बाद एटीएम से हर रोज चार हजार रुपये निकाले जा सकेंगे। बैंक या डाकघर में पुराने नोट जमा करने या बदलने के लिए उपभोक्ताओं के पास कोई पहचान पत्र होना जरूरी है। पहचान पत्र के तौर पर आधार कार्ड, नरेगा कार्ड, पैन कार्ड, मतदाता पहचान पत्र, ड्राइविंग लाइसेंस या सरकारी महकमे या सार्वजनिक क्षेत्र के पहचान पत्र का प्रयोग किया जा सकता है।

24 नवंबर तक बैंकों में विड्राल स्लिप या चेक के लिए एक दिन में 10 हजार रुपये और एक हफ्ते में अधिकतम 20 हजार रुपये तक निकाले जा सकते हैं। बैंक से निकाली गई राशि में एटीएम से निकाले गए पैसे भी शामिल होंगे। उपभोक्ता कैश डिपॉजिट मशीन या कैश रिसाइकिलर्स में भी पुराने नोट जमा कर सकते हैं। 31 मार्च तक आरबीआई की विशेष शाखाओं में उचित दस्तावेज दिखाकर नोट बदल सकते हैं।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 10, 2016 1:20 pm

सबरंग