ताज़ा खबर
 

वाराणसी: दशाश्‍वमेध घाट पर जापान के PM आबे के साथ गंगा आरती में शामिल हुए नरेंद्र मोदी

श्लोकों की गूंज के बीच मोदी और आबे ने नदी किनारे फूलों और एक गुलाब की माला का अर्पण किया।
Author वाराणसी | December 12, 2015 21:00 pm
दिसंबर 2015 में जापानी पीएम शिंजो एबे अपने भारत दौरे में पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी भी गए थे। (FILE PHOTO: REUTERS)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार शाम अपने जापानी समकक्ष शिंजो आबे के साथ यहां के प्रसिद्ध दशाश्वमेध घाट पर भव्य गंगा आरती में हिस्सा लेकर दोनों देशों के बीच के पारंपरिक सांस्कृतिक संबंधों में एक नया अध्याय जोड़ा। मोदी और आबे की वाराणसी यात्रा के मद्देनजर शहर में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। दोनों नेताओं ने दिल्ली में अपनी शिखर वार्ता के बाद वाराणसी की यात्रा की। वाराणसी प्रधानमंत्री मोदी का संसदीय क्षेत्र है। श्लोकों की गूंज के बीच मोदी और आबे ने नदी किनारे फूलों और एक गुलाब की माला का अर्पण किया। दोनों नेताओं की करीब चार घंटे की वाराणसी यात्रा के लिए करीब 7,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए थे ।

दोनों नेताओं ने दशाश्वमेध घाट पर करीब 45 मिनट बिताए और गंगा आरती देखी। गंगा नदी के किनारे हर शाम गंगा आरती का भव्य आयोजन होता है। मोदी ने इससे पहले कहा था कि संस्कृति और लोग किसी रिश्ते में जान ला देते हैं। आबे के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में उन्होंने कहा, ‘‘हमारे खास रिश्ते में एक मानवीय स्पर्श भी है। क्योटो-वाराणसी साझेदारी इसका एक ठोस संकेत है।’’ आबे ने फूलों से सुंदर तरीके से सजाए गए घाट का जो दौरा किया वह इस वजह से काफी अहम है, क्योंकि यह क्योटो और वाराणसी के बीच हुए साझेदार शहर समझौते की पृष्ठभूमि में किया गया है। पिछले साल अगस्त में मोदी की जापान यात्रा के दौरान दोनों नेताओं ने इस समझौते पर दस्तखत किए थे।

Read Also:

भारत-जापान के बीच हुई बुलेट ट्रेन, न्‍यूक्लियर डील, शिंजो आबे बोले- स्पीड से पॉलिसी लागू कर रहे मोदी

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग