June 22, 2017

ताज़ा खबर
 

लोगों को मिल रहे 2 तरह के 500 के नए नोट, असली-नकली पहचानना हो रहा मुश्किल, RBI ने कहा प्रिटिंग डिफेक्ट

विशेषज्ञों का मानना है कि इससे ना सिर्फ आम लोगों के दिमाग में उलझन पैदा होगी, बल्कि जालसाजी को भी बढ़ावा मिलेगा।

दोनों नोट में कई फर्क हैं। (Photo: Twitter/Arvind Kejriwal Retweet)

500 रुपए के नए नोट बैंकों और एटीएम में आए अभी दो हफ्ते हुए हैं, लेकिन अभी से बाजार में इस नोट के दो रूप देखने को मिल रहे हैं। इन दोनों नोटों में कई छोटे-छोटे फर्क हैं, और विशेषज्ञों का मानना है कि इससे ना सिर्फ आम लोगों के दिमाग में उलझन पैदा होगी, बल्कि जालसाजी को भी बढ़ावा मिलेगा। गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने नोटबंदी का फैसला कालाधन, जालसाजी व नकली नोटों पर रोक लगाने के उद्देश्य से लिया था। अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की खबर के मुताबिक, दिल्ली में रहने वाले एक शख्स ने कहा, “एक नोट में गांधी जी की परछाई ज्यादा दिखाई है, इसके अलावा सीरियल नंबर, अशोक स्तंभ जैसी चीजों के साइज में भी अंतर है।”

गुरुग्राम में रहने वाले रेहन शाह ने दोनों नोट में किनारों का साइज भी अलग-अलग बताया। वहीं मुंबई में रहने वाले एक शख्स ने 2000 रुपए के नोट के छुट्टे कराए थे और उन्हें 500 रुपए के दो नोट मिले। इन दोनों के कलर में फर्क था। एक हल्के रंग की छपाई से था। वहीं रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की प्रवक्ता अल्पना किल्लावाला ने कहा, “यह नोट प्रिटिंग में की गई गलती हो सकती है। क्योंकि इस समय काम का काफी दबाव है। हालांकि लोग बेझिझक इन नोटों को ले सकते हैं या चाहें तो आरबीआई को वापस कर सकते हैं।”

विशेषज्ञों का मानना है कि लोगों की उलझन का फायदा नकली नोट चलाने वालों को मिल सकता है। काफी सालों से क्राइम विभाग को देख रहे एक सीनियर IPS ऑफिसर ने कहा, “चूंकि लोग पूरी तरह से 500 के नोट के फीचर नहीं समझ पाएंगे, ऐसे में वह नकली नोट को भी बिना पहचाने रख सकते हैं। अगर बाजार में 500 के ऑफिशियल नोट भी दो रूप में मौजूद होगा तो तीसरे या नकली रूप को भी लोग नहीं पहचान पाएंगे।”

ये मिली कमियां:

1. महात्मा गांधी की परछाई में फर्क
2. नोट के तार की पोजिशन
3. सीरियल नंबर का साइज
4. अशोक स्तंभ का साइज
5. किनारे पर बना डिजाइन

बाकी ताजा खबरों के लिए यहां क्लिक कीजिए-

बैंक से नहीं बदलवा सकेंगे पुराने नोट; जानिए कहां-कहां चलेंगे 500 और 1000 रुपए के पुराने नोट

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

First Published on November 25, 2016 8:00 am

  1. A
    Ajit
    Nov 25, 2016 at 5:46 am
    People can deposit old notes till Dec 31st. people can utilize check, credit card, debit card, PayTM and so many other ways to make any legit payment.
    Reply
    1. S
      Sanjit
      Nov 25, 2016 at 5:51 am
      In January 2017. The cruncy notes RS 100s and RS 50s will be BAN by modi. Do not STOCK these notes. A new 20 Rupee is under printing.
      Reply
      1. S
        skverma
        Nov 25, 2016 at 3:04 am
        गम्भीर खामियां: बैंक से इन दिनों तो कुछ भी काम करवाना (बदलवाना आदि) संभव न होगा- इतना ध्यान से आम आदमी नहीं देखेगा पर इस आधार पर कमियां नजरअंदाज भी नहीं की जा सकती. वैसे मेरा मानना है कि नोट के तार की पोजिशन बदली होने में कोई हर्ज नहीं...
        Reply
        सबरंग