ताज़ा खबर
 

नगरोटा: दो महिलाओं की बहादुरी से टली बड़ी “होस्टेज सिचुएशन”, अातंकी क्वार्टर में मौजूद लोगों को बनाना चाहते थे बंधक

नागरोटा आतंकी हमले में आतंकवादी सेना क्वार्टर में मौजूद लोगों को बंधक बनाना चाहते थे लेकिन उनकी इस कोशिश को दो महिलाओं ने नाकाम कर दिया।
हमले के दौरान अपनी रणनीति तैयार करते हुए सेना के जवान। (Source: PTI)

जम्मू और कश्मीर में 29 नवंबर को दो जगहों पर आतंकी हमले हुए। इन हमलों में भारतीय सेना के सात जवान शहीद हो गए हैं जिनमें से दो मेजर भी थे। एक हमला नागरोटा इलाके में मौजूद आर्मी युनिट में हुआ जो कि सेना कि 16 कॉर्प मुख्यालय से महज तीन किलोमीटिर की दूरी पर मौजूद है। आतंकियों ने सेना युनिट के रेजिडेंशियल क्वार्टर में भी घुसने की कोशिश की थी और अगर वे अपने मंसूबों में कामयाब हो जाते तो एक बड़ी होस्टेज सिचुएशन बन सकती थी लेकिन आतंकियों के इस इरादे को दो महिलाओं ने नाकाम कर दिया।

क्वार्टर में रात को दो महिलाएं अपनी नाइट ड्यूटी पर तैनात थीं। महिलाओं ने हमले की जानकारी मिलते ही क्वार्टर को सुरक्षित करने का काम करते हुए मेन गेट को अपने घरों के सामान से ही ब्लॉक कर दिया जिसने आतंकियों का रास्ता रोक दिया और एक बड़ी होस्टेज सिचुएशन बनने से टल गई। क्वार्टर में महिलाओं के साथ उनके दो बच्चे भी मौजूद थे और दोनों ही बहुत छोटे थे। वहीं लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने बताया कि इमारत में मौजूद सभी लोगों को सुरक्षित निकाल लिया गया था। इमारत में सेना के 12 जवान, महिलाएं और 2 बच्चे भी थे। उन्होंने यह भी बताया कि दोनों बच्चे 18 महीने के थे। वहीं इस ऑपरेशन में सेना के दो जवान भी शहीद हो गए।

आतंकी सेना के क्वार्टर की दो इमारतों में घुसने में कामयाब हो गए थे लेकिन सेना तुरंत ही कार्रवाई करते हुए उन्हें ढेर कर दिया। सेना का ऑपरेशन लगभग 12 घंटों तक चला। आतंकी ग्रिनेड्स फेंककर और फायरिंग करते हुए ऑफिसर्स मेस में घुस गए। इसके जवाब में सेना के जवानों ने कार्रवाई करते हुए फायरिंग शुरु की और तीन आंतकियों को ढेर कर दिया। वहीं सेना ने अभी ऑपरेशन पूरी तरह से खत्म नहीं किया है लेकिन यह जानकारी दी है कि इलकों को पुरी तरह से सुरक्षित करने के बाद ही ऑपरेशन को खत्म किया जाएगा।

वीडियो: जम्मू-कश्मीर: नगरोटा और सांबा में सेना पर आतंकी हमला; 2 जवान शहीद, 3 आतंकी ढेर

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.
सबरंग