ताज़ा खबर
 

शौचालय का नाम बदलना चाहती है नरेंद्र मोदी सरकार, सभी राज्यों को लिखी चिट्ठी

शौचालय का नाम 'इज्जत घर' रखने का पहला मामला यूपी के वाराणसी में सामने आया था।
तस्वीर का इस्तेमाल केवल प्रतीकात्मक रूप से किया गया है। (फाइल फोटो)

केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी योजना स्वच्छ भारत अभियान के तहत बने शौचालयों का नाम बदलकर ‘इज्जत घर’ रखा जा सकता है। वहीं अन्य भाषाई विविधता वाले क्षेत्रों में इसी के बराबर सम्मानित नाम रखा जा सकता है। दरअसल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते महीने अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी दौरे पर नए शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ रखे जाने की काफी सराहना की थी। जिसके चलते 16 अक्टूबर को केंद्र ने सभी राज्यों को पत्र लिखकर सुझाव दिया कि शौचालयों को ‘इज्जत घर’ कहा जाए। पत्र में भाषाई विविधता वाले क्षेत्रों में इसी के बराबर सम्मानित नाम रखने का सुझाव भी दिया गया है।

ये सुझाव ऐसे समय में आया है जब पेय जल और स्वच्छता मंत्रालय द्वारा उत्तर प्रदेश में शौचालयों का नाम इज्जत घर रखा जा रहा है। दूसरी तरफ केंद्र के पत्र में आगे लिखा गया कि ऐसा करना अच्छा है जो शौचालय के लिए पूरे परिवार में गरिमा और अभिमान पैदा करता है। और इसके इस्तेमाल पर भी सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसलिए ऐसा माना जा रहा है कि भारत के अन्य हिस्सों में भी शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ की तर्ज पर रखा जा सकता है।

गौरतलब है कि वाराणसी दौरे पर पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने तब एक नए शौचालय का उद्घाटन किया था। तब शौचालय का नाम ‘इज्जत घर’ रखे जाने पर उन्होंने मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ की सराहना की थी। कहा था कि जिस घर में ‘इज्जत घर’ होगा वो घर की गरिमा बनाए रखेगा। उन्होंने आगे कहा, ‘मैं गांव में जब शौचालय की नींव रख रहा था, तब मैंने वहां इज्जत घर लिखा देखा। ये देखकर मैं बहुत खुश था। शौचायल का ये नाम गढ़ने के लिए मैं राज्य सरकार को मुबारकबाद देता हूं।’

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. No Comments.