ताज़ा खबर
 

हेराल्‍ड केस: सोनिया-राहुल गांधी को 5 मिनट में मिली बेल, कोर्ट से बाहर आते ही मोदी सरकार पर किए चुन-चुनकर हमले

बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने अदालत से अपील की थी कि सोनिया और राहुल के विदेश जाने पर रोक लगाई जाए, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया।
Author नई दिल्‍ली | December 19, 2015 20:14 pm
कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी के साथ राहुल गांधी।

नेशनल हेराल्‍ड मामले में कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्‍यक्ष राहुल गांधी शनिवार को पटियाला हाउस कोर्ट पहुंचे। अदालत ने पांच मिनट की सुनवाई के बाद दोनों को जमानत दे दी। राहुल और सोनिया गांधी को 50-50 हजार रुपए के मुचलके पर जमानत दी गई है। इनकी जमानत एके एंटनी और प्रियंका वाड्रा ने दी। गुलाम नबी आजाद ने ऑस्‍कर फर्नांडीज, अजय माकन ने मोतीलाल वोरा और मल्‍ल‍िकार्जुन खड़गे ने सुमन दुबे की गारंटी ली। बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी ने अदालत से अपील की थी कि सोनिया और राहुल के विदेश जाने पर रोक लगाई जाए, जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया। अदालत से बाहर आते ही कांग्रेस नेताओं ने एक-एक करके मोदी सरकार पर हमले किए।

कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी ने कोर्ट से बाहर निकलकर कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, ‘आज हम साफ मन से कोर्ट में पेश हुए, जैसा कि एक अच्‍छे नागरिक को होना चाहिए। मुझे इसमें जरा भी शक नहीं कि सच सामने आएगा।’ उन्‍होंने कहा, ‘ये लोग हमेशा से हमें हटाने की कोशिश करते आए हैं, लेकिन हमने ऐसा होने नहीं दिया। मोदी सरकार हमें जानबूझकर निशाना बना रही है, लेकिन हम झुकेंगे नहीं।’

राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी कांग्रेसमुक्‍त भारत चाहते हैं, लेकिन हम होने नहीं देंगे। हम विपक्ष के तौर पर गरीबों के लिए अपनी लड़ाई जारी रखेंगे और एक ईंच भी पीछे नहीं हटेंगे।’ उन्‍होंने कहा, ‘मोदी जी झूठे इल्‍जाम लगवाते हैं और वो सोचते हैं कि विपक्ष डर जाएगा।’

पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने कहा, ‘हम अपनी लड़ाई जारी रखेंगे, क्‍योंकि हम सिद्धांतों से समझौता नहीं कर सकते।’

कांग्रेस नेता और जाने-माने वकील अभिषेक सिंघवी ने कहा कि हम कल से कह रहे थे कि इस केस में बेवजह हाइप क्रिएट न की जाए। कोर्ट ने बिना शर्त के बेल दी है। सैम पित्रोदा को जज ने छूट दी है, क्योंकि वे कान के ऑपरेशन की वजह से आए नहीं हैं।

सिंघवी ने बीजेपी नेता सुब्रमण्‍यम स्‍वामी की उस अपील को दुर्भाग्‍यपूर्ण करार दिया, जिसमें उन्‍होंने सोनिया और राहुल गांधी के विदेश जाने पर रोक लगाने की मांग की थी। वैसे स्‍वामी की इस मांग को कोर्ट ने खारिज कर दिया।

सोनिया-राहुल और बाकी आरोपियों की तरफ से कपिल सिब्बल ने कहा कि स्वामी ने कोर्ट से मांग की थी कि हमारे नेताओं के देश से बाहर जाने पर कुछ शर्तें लगाई जाएं, लेकिन कोर्ट ने यह शर्त नहीं मानी। 20 फरवरी को दोपहर 2 बजे इस केस की अगली सुनवाई होगी। हमारे नेता अगली तारीख को भी पेश होंगे।

Read Also:

सोनिया ही नहीं, इंदिरा गांधी से भी टकरा चुके हैं सुब्रमण्‍यम स्‍वामी, जानिए कई और खास बातें

नेशनल हेराल्‍ड: शर्ट उतारकर उतरे कांग्रेसी, पोस्‍टर में मोदी को हिटलर दिखाया, पुतले को जूते से पीटा

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ गूगल प्लस पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

  1. s
    s,s,sharma
    Dec 19, 2015 at 11:11 am
    Modi should focus ondelivery. So far the achievements of this govt. is big NIL.
    Reply
सबरंग